राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल के पूर्व मेदिनीपुर जिले के कांथी में अधिकारी परिवार के आवास

शांतिकुंज के ऊपर ड्रोन उड़ाए जाने से नाराज तमलुक के टीएमसी सांसद तथा नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी के भाई दिव्येंदु अधिकारी ने कहा है कि उनके घर की निगरानी की जा रही है। उन्होंने कहा है कि वह इसकी शिकायत केंद्र और राज्य सरकार से करेंगे। दिव्येंदु अधिकारी का कहना है कि गत दिनों ही कलकत्ता हाई कोर्ट ने सुवेंदु अधिकारी के घर की सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।

उन्होंने कहा कि इस दिन वह अपने घर के आंगन में बैठ कर पढ़ रहे थे, लेकिन इसी दौरान उनके घर के ऊपर से ड्रोन उड़ाया गया है। ड्रोन उड़ाने वाले की पहचान करने के लिए जब वे छत पर गए तो देखा कि बगैर परिचय पत्र व सादी वर्दी में कुछ लोग उनके घर के सामने टहल रहे हैं। इसे लेकर उन्होंने किसी का नाम लिए बगैर राज्य प्रशासन पर निशाना भी साधा और कहा कि उनके घर की निगरानी की जा रही है। सांसद का आरोप है कि ड्रोन उड़ाए जाने के बारे में जब उन्होंने थाने में फोन किया तो किसी भी पुलिस कर्मी ने उनका फोन नहीं उठाया।

पुलिस ने अभी तक इस मामले पर कोई टिप्पणी नहीं की है। विपक्षी नेता के घर के आसपास सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। आरोप यह भी है कि इसके जरिए परिवार पर नजर रखी जा रही है। इस संबंध में कलकत्ता उच्च न्यायालय में एक मामला भी दायर किया गया है। इसी विवाद के बीच ड्रोन की घटना ने एक नया विवाद खड़ा कर दिया है।

इधर ड्रोन उड़ाए जाने के विवाद के बीच सांसद दिव्येंदु अधिकारी ने स्पष्ट तौर पर कहा कि उनकी नेत्री ममता बनर्जी ही हैं। वह लोकसभा में उनके दल के नेता सुदीप बनर्जी तथा मुख्य सचेतक सांसद कल्याण बनर्जी से इसकी शिकायत करेंगे। इसके साथ ही लोकसभा अध्यक्ष को भी इसकी जानकारी देंगे। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि टीएमसी नेत्री ममता बनर्जी उनकी शिकायतों पर अवश्य ही गौर करेंगी।

मालूम हो कि टीएमसी सांसद दिव्येंदु अधिकारी के भाई सुवेंदु अधिकारी के भाजपा में शामिल होने के बाद से ही एक प्रकार से पूरा अधिकारी परिवार स्थानीय टीएमसी के लिए आंख की किरकिरी बन गया है। सुवेंदु के पिता पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा सांसद शिशिर अधिकारी अभी भी टीएमसी में ही हैं।

Edited By: Vijay Kumar