जागरण संवाददाता, कोलकाता : लेडीज हेयर क्लिप मेट्रो रेल प्रशासन के लिए जी का जंजाल बन गई। एक हेयर क्लिप मेट्रो ट्रेन के गेट में फंस गई। तमाम प्रयासों के बाद भी क्लिप का टुकड़ा बाहर नहीं निकलने पर चालक ने खुले दरवाजे ही ट्रेन को दौड़ा दिया। हालांकि यात्री सुरक्षा के लिहाज से खुले गेट पर आरपीएफ के जवानों को तैनात किया गया था। साथ ही रिले सिस्टम के गेट पर भी सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की गई थी। प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे डाउन रैक के बेलगछिया स्टेशन पर प्रवेश करने बाद मोटरमैन को यांत्रिक खामी का संकेत मिला। जांच में देखा गया कि पहले कोच का दरवाजा बंद नहीं हो रहा है। आरपीएफ के साथ मोटरमैन संबंधित कोच में पहुंचे तो देखा कि स्लाइडिंग डोर के अंदर लेडीज हेयर क्लिप फंसी हुई है। दरवाजे को हिलाने पर टूटकर क्लिप का एक हिस्सा अंदर चला गया। पैनल में क्लिप का टुकड़ा फंस जाने की वजह से दरवाजा बंद नहीं हुआ। काफी प्रयास के बाद भी सफलता नहीं मिलने पर मोटरमैन और गार्ड ने समय बर्बाद किए बगैर ट्रेन को चलाने का निर्णय ले लिया। यात्री सुरक्षा के मद्देनजर खुले गेट पर आरपीएफ जवानों की तैनाती कर दी गई। इसके बाद कवि सुभाष स्टेशन तक खुले दरवाजे में ही मेट्रो को चलाया गया। चांदनी स्टेशन पर पहुंचने पर एक बार फिर क्लिप को निकालने का प्रयास किया गया लेकिन सफलता नहीं मिली।

Posted By: Jagran