राज्य ब्यूरो, कोलकाता : 80 व 90 के दशक के जाने-माने क्रिकेट कमेंटेटर एवं वरिष्ठ खेल पत्रकार किशोर भिमानी (81) का गुरुवार प्रातः कोलकाता के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। पारिवारिक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक किशोर भिमानी को गत 14 अक्टूबर को कोलकाता के वुडलैंड मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। वे उम्रजनित कई बीमारियों से पीड़ित थे।

कोलकाता की बड़ी हस्तियों में से एक थे  भिमानी

गुरुवार प्रातः 6:25 बजे अचानक दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया। खेल जगत से जुड़े लोगों ने उनके निधन पर गहरा शोक जताया है।  क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले ने कहा कि किशोर भिमानी से उनकी बहुत सी यादें जुड़ी हैं। वे कोलकाता की बड़ी हस्तियों में से एक थे और बहुत अच्छे लेखक भी थे।

बेटे गौतम भिमानी के मुंबई से लौटने पर संस्कार

पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी ने कहा कि किशोर भिमानी पुराने ढर्रे के बहुत अच्छे क्रिकेट लेखक थे, जिन्होंने एक खिलाड़ी की तरह ही क्रिकेट पर लेखनी की थी। पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक किशोर भिमानी का अंतिम संस्कार शुक्रवार को उनके बेटे गौतम भिमानी के मुंबई से लौटने के बाद किया जाएगा।

टाई हुए टेस्ट मैच में किशोर भिमानी थे कमेंटेटर

किशोर भिमानी ने कई यादगार टेस्ट मैचों में कमेंट्री की है। 1986 में चेन्नई के चेपक स्टेडियम में भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच टाई हुए टेस्ट मैच में किशोर भिमानी कमेंटेटर थे।

1987 में अहमदाबाद में पाक से ड्रा टेस्ट में कमेंट्री

इसके बाद 1987 में अहमदाबाद में पाकिस्तान के खिलाफ ड्रॉ रहे टेस्ट मैच में जब सुनील गावस्कर टेस्ट मैचों में 10,000 रन पूरे करने वाले पहले क्रिकेटर बने थे, उस समय किशोर भिमानी ही कमेंट्री कर रहे थे।

कलकत्ता स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट्स क्लब अध्यक्ष भी रहे

सूत्रों से पता चला है कि इमरान खान जब पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान थे और उस समय जब भी कोलकाता आते थे, तब किशोर भिमानी के निवास स्थल में जरूर जाते थे। किशोर भिमानी 1978 से 1980 तक कलकत्ता स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट्स क्लब के अध्यक्ष भी रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप