राज्य ब्यूरो, कोलकाता। कोलकाता नगर निगम ने शहर के अस्सी साल से अधिक उम्र के लोगों के लिये, बिस्तर पर पड़े लोगों के लिए एक मानवीय पहल की है। अब से इन सभी लोगों को घर पर ही कोरोना का टीका लगाया जाएगा। कोलकाता नगर पालिका के मुख्य प्रशासक फिरहाद हकीम ने ‘टॉक टू केएमसी’ कार्यक्रम में इसकी घोषणा की।

कोलकाता नगर पालिका ने कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण के साथ-साथ कोविड नियमों के अनुपालन पर जोर दिया है। लेकिन कई मामलों में बुजुर्ग और अपाहिज या बीमार नगर निगम के टीकाकरण केंद्र पर टीकाकरण कराने नहीं आ पाते हैं। ‘टॉक टू केएमसी’ कार्यक्रम पर भी कई वरिष्ठ नागरिकों ने फोन कर इस समस्या की जानकारी दी। इसीलिए कोलकाता नगर पालिका ने राज्य के स्वास्थ्य विभाग के परामर्श से यह कार्यक्रम लिया है। वहीं फिरहाद हकीम ने कहा कि 80 साल से अधिक उम्र वालों को ही घर पर कोरोना का टीका लगाया जाएगा। इसके अलावा, 60 वर्ष से अधिक उम्र के अपाहिज और बीमार लोगों को भी नगर निगम के कर्मचारियों द्वारा उनके घरों पर टीका लगाया जाएगा। उनमें से प्रत्येक को ‘विशेष मामले’ के रूप में टीका लगाया जाएगा।

एयरपोर्ट पर यात्रियों की संख्या 20 हजार पार

कोलकाता एयरपोर्ट पर या​त्रियों की संख्या अब 20 हजार पार कर गयी। सूत्रों के मुताबिक एयरपोर्ट पर इन दिनों लगातार यात्रियों की संख्या बढ़ रही है। इसके लिए 203 उड़ानों का संचालन किया गया। वहीं यात्रियों की मांग है कि जिन गंतव्यों पर आंशिक प्रतिबंध लगाया गया है, उन्हें अब हटा लिया जाए। उल्लेखनीय है कि मुंबई, चेन्नई, पुणे, नागपुर और अहमदाबाद कुल 5 गंतव्यों से कोलकाता आने वाली उड़ानों पर आंशिक प्रतिबंध है। यानी कि ये उड़ानें सोमवार, बुधवार तथा शुक्रवार को ही संचालित होती हैं। इससे यात्रियों के साथ ही साथ एयरलाइंस कर्मियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इन तीन दिनों में सबसे अधिक संख्या में यात्री यात्रा कर रहे हैं। इसलिए इन उड़ानों को प्रतिदिन करने की मांग उठ रही है। 

Edited By: Priti Jha