कोलकाता, राज्य ब्यूरो। प्रख्यात बंगाली लेखक शिरशेंदु मुखोपाध्याय की बेटी के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में उनकी रविवार को लाइटें बंद करने तथा दीपक और मोमबत्ती जलाने की अपील को लेकर सोशल मीडिया में कथित रूप से अपमानजनक टिप्पणी पोस्ट करने के आरोप में थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है।

भाजपा की शाखा भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय सचिव सौरभ सिकदर द्वारा दायर की गई शिकायत में कहा गया है कि कल देबलीना मुखोपाध्याय ने फेसबुक पर प्रधानमंत्री के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणियां पोस्ट कीं। पोस्ट वायरल हो गया है और इसका सोसाइटी पर गलत असर पड़ा है।

शिकायत में कहा गया है कि जानबूझकर भारत के प्रधानमंत्री के खिलाफ नफरत फैलाने के लिए इस तरह की टिप्पणी की गई है। बताते चलें कि कोरोना वायरस के संक्रमण के मद्देनजर राष्ट्र के लिए एक वीडियो संदेश में पीएम मोदी ने नागरिकों से आग्रह किया कि वे 5 अप्रैल को रात 9 बजे नौ मिनट के लिए एक मोमबत्ती या एक दीया जलाएं, जिससे अंधेरे और निराशा को दूर किया जा सके।

कोरोना के खिलाफ बंगाल में जमकर फूटे पटाखे, कोलकाता से 45 लोग गिरफ्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर कोरोना के खिलाफ जंग में कोलकाता सहित पूरे बंगाल में भी लोगों ने रविवार रात नौ बजे अपने घरों की लाइटें बंद कर दीप व मोमबत्तियां जलाकर एकजुटता प्रदर्शित की। इस दौरान कोलकाता सहित राज्यभर में जमकर लोगों ने आतिशबाजी भी की। एक तरफ जहां लोगों ने दीप व मोमबत्ती जलाकर कोरोना को हराने का संकल्प लिया, वहीं दूसरी ओर इस दौरान जमकर पटाखे भी फूटे।

राजधानी कोलकाता सहित हावड़ा, हुगली, उत्तर व दक्षिण 24 परगना, वर्धमान, पुरुलिया, बीरभूम सहित अन्य जिलों में काफी देर तक पटाखों की गूंज सुनाई दी। इधर, कोलकाता पुलिस ने लॉकडॉउन के दौरान पटाखा फोड़ने के आरोप में महानगर के विभिन्न स्थानों से 45 लोगों को गिरफ्तार किया। यह गिरफ्तारी रविवार रात 9 से 11 बजे के बीच की गई। पटाखा फोड़ने की आशंका के चलते पुलिस यहां पहले से सतर्क थी।

इस दौरान विभिन्न इलाकों में पुलिस गश्त भी लगा रही थी। ‌वहीं, घरों से बाहर निकलकर पटाखा फोड़ने के आरोप में पुलिस ने इन लोगों को गिरफ्तार किया। भारी आतिशबाजी को देखते हुए कोलकाता सहित विभिन्न जिलों में लोगों ने 100 नंबर पर डायल करके भी पुलिस को सूचना दी।

इस आधार पर भी पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार किया। इधर, पश्चिम बंगाल प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारी ने कहा कि अचानक भारी तादाद में आतिशबाजी के चलते रात में कोलकाता का वायु प्रदूषण का स्तर भी बढ़ गया। उल्लेखनीय है कि कोरोना के खिलाफ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए पीएम मोदी ने देशवासियों से रात 9 बजे से 9 मिनट के लिए घरों की लाइटें बंद कर दीप, मोमबत्ती, टॉर्च या मोबाइल की लाइट जलाने की अपील की थी। लेकिन, लोगों ने इस दौरान यहां जमकर आतिशबाजी भी की।

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस