राज्य ब्यूरो, कोलकाता। चुनाव बाद हिंसा मामले में सीबीआइ ने शुक्रवार को बंगाल के बीरभूम जिला तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष व बाहुबली नेता अनुब्रत मंडल को तलब किया। उन्हें जिले के भाजपा कार्यकर्ता गौरव सरकार की हत्या के सिलसिले में तलब किया गया था। हालांकि वह शारीरिक अस्वस्थता को कारण बताते हुए हाजिर नहीं हुए। दो मई को विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के दिन गौरव सरकार की हत्या कर दी गई थी।

इसके बाद सीबीआइ ने जांच का जिम्मा संभाला और कई लोगों से पूछताछ की। पूछताछ में कुछ लोगों ने अनुब्रत मंडल का नाम लिया। उन्हें शुक्रवार दोपहर बीरभूम के इलमबाजार स्थित सीबीआइ कैंप कार्यालय में तलब किया गया था। लेकिन वह हाजिर नहीं हुए। इसके बजाय उनके वकील ने कैंप कार्यालय में जाकर एक पत्र सौंपा जिसमें कहा गया था कि अनुब्रत मंडल शारीरिक बीमारी के कारण उपस्थित नहीं हो सके।

सीबीआइ सूत्रों के मुताबिक वे फिर से अनुब्रत मंडल को समन भेजेंगे। इससे पहले सीबीआइ अधिकारियों ने मवेशी तस्करी की जांच के लिए अनुब्रत मंडल को कोलकाता के  निजाम पैलेस में सीबीआइ कार्यालय बुलाया था।कलकत्ता हाई कोर्ट के निर्देश के बाद सीबीआइ हिंसा से जुड़े मामले की जांच कर रही है। हाई कोर्ट द्वारा इस बाबत चुनाव बाद हिंसा में हत्या व गंभीर मामलों की जांच सीबीआइ को सौंपें जाने के बाद केंद्रीय एजेंसी ने अब तक जो 50 मुकदमे दर्ज किए हैं उनमें यह मामला भी शामिल है। 

बताते चलें कि बंगाल में पिछले साल दो मई को विधानसभा चुनाव का परिणाम घोषित होने के दिन राजधानी कोलकाता में भाजपा कार्यकर्ता अभिजीत सरकार की हुई हत्या मामले में सीबीआइ ने गत दिनों पांच फरार आरोपितों के खिलाफ 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है। इनमें दो महिला भी शामिल हैं। सीबीआइ ने पांचों का हुलिया भी जारी किया है।

Edited By: Babita Kashyap