कोलकाता, जागरण संवाददाता। कोलकाता में रविवार को दुर्लभ बीमारी के मरीजों, जिनमें 50 प्रतिशत बच्चे हैं, के लिए ऑर्गनाइजेशन फॉर रेयर डिजीज इंडिया (ओआरडीआइ) की पहल पर ‘रेस फार 7’ का आयोजन किया गया। जानी-मानी हस्तियां ऊषा उथुप, अनिंद्य चटर्जी और रोमी दत्ता ने इस दौड़ को हरी झंडी दिखाई और दुर्लभ बीमारी के मरीजों के समर्थन में एकत्र हुए और दौड़ लगाने वाले कोलकाता वासियों का साथ दिया।

‘रेस फार 7’ दुनिया भर में दुर्लभ बीमारी से जूझ रहे मरीजों के समर्थन में अपनी तरह का पहला आयोजन है। इसमें 7000 तरह की दुर्लभ बीमारियों की संख्या को दर्शाने के लिए सांकेतिक रूप से 7000 लोगों ने दौड़ लगाई। इन बीमारियों का पता चलने में औसतन 7 साल का वक्त लग जाता है, इसे सांकेतिक रूप से दर्शाने के लिए प्रतिभागियों ने 7 किलोमीटर की दौड़ लगाई।

इस मौके पर ओआरडीआइ के संस्थापक निदेशक और दुर्लभ बीमारी से ग्रसित एक मरीज के पिता प्रसन्ना शिरोल, आइक्यूवीआइए के प्रबंध निदेशक अमित मुकीम, मॉलीक्यूलर जेनेटिक्स में पीएचडी और ओआरडीआइ, पश्चिम बंगाल की जेनेटिक काउंसलर व को-ऑर्डिनेटर डॉ. दीपांजना दत्ता ने दुर्लभ बीमारी के मरीजों के प्रति जागरूकता फैलाने पर बल दिया।

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप