जागरण संवाददाता, कोलकाता : आजादी का अमृत महोत्सव पर कार्यक्रमों की श्रृंखला में बीएसएफ के उत्तर बंगाल फ्रंटियर अंतर्गत 72वीं बटालियन ने भारत- बांग्लादेश के सीमावर्ती क्षेत्र में नि:शुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन किया। 72वीं वाहिनी की सीमा चौकी (बीओपी) कोचाबारी के आयोजित इस चिकित्सा शिविर का सैकड़ों ग्रामीणों ने लाभ उठाया। अधिकारियों ने बताया कि यह शिविर बीएसएफ के चिकित्सकों, ब्लड बैंक आईएसडीएच (इस्लामपुर उपखंड अस्पताल) के साथ निकट समन्वय और पर्यवेक्षण में सफलतापूर्वक आयोजित किया गया। इस दौरान एक गैर सरकारी संगठन ने भी अपना हाथ बढ़ाया। इससे पहले इस शिविर का उद्घाटन प्रहरी मित्र केशव कर्मकार और स्थानीय गाव के पांच प्रमुख ग्राम सदस्यों ने 72वीं वाहिनी के सेकंड इन कमांड परमजीत सिंह, एसएमओ डा नरेश कुमार, जीडीएमओ डा मिलन वालिया व अन्य अधिकारियों और जवानों की उपस्थिति में किया। बताया गया कि चिकित्सा शिविर के दौरान सामान्य ओपीडी में 157 मरीजों को देखा गया। कामती आई क्लीनिक द्वारा 88 लोगों की नि:शुल्क नेत्र जाच की गई एवं उन्हें दवा प्रदान की गई। इस दौरान बीएसएफ के कुल 30 जवानों और एक प्रहरी मित्र श्याम सिंह ने रक्तदान भी किया। स्थानीय ग्रामीणों ने बीएसएफ की इस पहल की सराहना की। इस मौके पर बाल शोषण के खिलाफ 39 व्यक्तियों को एनजीओ द्वारा परामर्श भी दिया गया।

Edited By: Jagran