कोलकाता, राज्य ब्यूरो। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के जवानों ने बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में भारत-बांग्लादेश सीमा के पास तस्करी को नाकाम करते हुए 35 फिश सीड बॉल (मछली के छोटे बच्चे) की एक बड़ी खेप जब किया है, जब इसको अवैध तरीके से सीमा पार ले जाया जा रहा था। बीएसएफ की ओर से जारी बयान में बताया गया कि जब्त फिश सीड बॉल का बाजार मूल्य लगभग 1,75,000 रुपये है और सीमा चौकी पारगुमटी, 27 वाहिनी के क्षेत्र से इसे तस्करी के माध्यम से बांग्लादेश ले जाया जा रहा था।

बयान के मुताबिक, पांच अप्रैल को सीमा चौकी पारगुमटी, 27वीं वाहिनी, सेक्टर कोलकाता के जवानों ने प्राप्त खुफिया सूचना पर कार्य करते हुए अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास घात लगाकर बैठे थे। इस दौरान एम्बुश पार्टी ने कुछ संदिग्ध व्यक्तियों को छोटे- छोटे बैग (पोटला) के साथ कालिंदी नदी (अंतरराष्ट्रीय सीमा) की तरफ आते हुए देखा जो तस्करी के उदेश्य से कालिंदी नदी क्रॉस कर बांग्लादेश की तरफ जाने की कोशिश कर रहे थे। जब सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने इन तस्करों को चुनौती दी और उसका पीछा किया तो तस्करों ने सीमा सुरक्षा बल के जवानों को देखते ही पोटला को छोड़ सघन फसल का सहारा लेते हुए वहां से भाग निकले। इलाके की सघन तलाशी लेने पर वहां से 35 फिश सीड बाल बरामद हुए।

बीएसएफ ने जब्त किए गए सभी फिश सीड बाल को कस्टम कार्यालय हिंगलगंज को सौंप दिया। इधर, 27 वाहिनी के कमांडिंग ऑफिसर जसबीर सिंह, समादेष्टा ने अपने जवानों की उपलब्धि पर खुशी व्यक्त की, जिसके परिणामस्वरूप 35 फिश सीड बाल ज़ब्त किया। उन्होंने कहा कि यह केवल उनके जवानों द्वारा ड्यूटी पर प्रदर्शित की गई सतर्कता के कारण ही संभव हो सकता है। उन्होंने आगे कहा कि महानिरीक्षक, दक्षिण बंगाल सीमांत सीमा सुरक्षा बल द्वारा शुरू किए गए अभियान के तहत सीमा पर होने वाले अपराधों के लिए जीरो टॉलरेंस के संकल्प को पूरा करने के लिए उनके जवान पूरी तरह से दृढ़ और प्रतिबद्ध हैं। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021