कोलकाता, [ जागरण संवाददाता] । लालबाजार अभियान के दौरान कार्यकर्ताओं पर हुए लाठीचार्ज के खिलाफ भाजपा अदालत जाएगी। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव व प्रदेश भाजपा प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

लालबाजार अभियान के दौरान पुलिस ने विजयवर्गीय सहित कई शीर्ष नेताओं को गिरफ्तार किया था। रिहाई के बाद विजयवर्गीय ने ममता सरकार एवं पुलिस पर निशाना साधा। उन्होंने लालबाजार अभियान के दौरान हुई घटनाओं को सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से दिखाने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने बम या पत्थर नहीं फेंके बल्कि उल्टा उन पर बम एवं पत्थर फेंके गए।

 उन्होंने एक धार्मिक स्थल से भाजपा के जुलूस पर बम और पत्थर फेंके जाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि यहां कोई कानून-व्यवस्था नहीं है। ध्वस्त कानून व्यवस्था और पार्टी कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज करने वाली पुलिस के खिलाफ भाजपा कोर्ट में जाएगी। इस दिन विजयवर्गीय ने ममता बनर्जी को भी चेतावनी दी।

उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी ईमानदारी का चाहे कितना भी ढोंग करें, वे उनके परिवार की करोड़ों की संपत्ति के बारे सबूत के साथ कागजात सार्वजनिक करेंगे। इसके पहले भी विजयवर्गीय ने ममता बनर्जी के भतीजे के करोड़ों के आवास होने का दावा किया था। उन्होंने मुख्यमंत्री के परिवार के पास इतनी संपत्ति होने पर सवाल उठाया था। एक बार फिर उन्होंने इस पर सवाल उठाते हुए ममता बनर्जी को चेताया।

उन्होंने ममता बनर्जी को भाजपा शासित प्रदेशों से सीख लेने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि यहां कि पुलिस विपक्षी दल के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के साथ अपराधी की तरह बर्ताव करती है। आंदोलनकारी भाजपा नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को भीषण गर्मी में हिरासत में बिना पानी के रखा गया। विपक्ष के साथ कैसा व्यवहार किया जाता है, इस बारे में ममता बनर्जी को भाजपा की सरकारों से शिक्षा लेनी चाहिए।

 यह भी पढ़ें:  धर्मनिरपेक्ष होना चाहिए राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार : ममता

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस