जागरण संवाददाता, कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस के पूर्व नेता पर भाजपा में ही ऊहापोह की स्थिति बनी हुई थी। इस सारे संशय पर रविवार को भाजपा के बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने लगभग विराम लगा दिया और माना जा रहा है कि जल्द ही मुकुल भाजपा का झंडा थाम सकते हैं। पहले पार्टी के कुछ नेता उनको भाजपा में शामिल करने के पक्ष में हैं तो कुछ विपक्ष में है। इस बीच शनिवार को मुकुल को लेकर मंत्रणा को भाजपा के दो केंद्रीय नेता बंगाल पहुंचे हैं, जिन्होंने रविवार को भाजपा प्रदेश कोर कमेटी की बैठक की जिसमें मुकुल शामिल करने को लेकर चर्चा की गई। सूत्रों के मुताबिक बंगाल भाजपा प्रभारी व केंद्रीय नेता कैलाश विजयवर्गीय ने राज्य के नेताओं को संकेत दे दिए हैं कि मुकुल भाजपा में शामिल होंगे। इसीलिए कोई भी नेता मुकुल के खिलाफ कुछ नहीं बोलें। जिससे की कोई दिक्कत खड़ी हो जाए। माना जा रहा है कि भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के संकेत के बाद ऐसे निर्देश जारी किए गए हैं।

इस बीच एक भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने रविवार को कहा कि एक-दो दिनों में मुकुल को भाजपा में शामिल करने को लेकर फैसला हो सकता है। भाजपा सूत्रों के मुताबिक मुकुल ने भाजपा में शामिल होने और राज्य में पार्टी के संगठन को विस्तार में मदद करने की इच्छा जाहिर की है।

वहीं, भाजपा के एक अन्य नेता ने कहा कि पार्टी में राय के शामिल होने से हमें राज्य में पार्टी का विस्तार करने में मदद मिलेगी। उनके संगठनात्मक कौशल और जमीनी स्तर के ज्ञान से जबर्दस्त मदद मिलेगी। गौरतलब है कि भाजपा नेतृत्व का एक वर्ग राय को पार्टी में शामिल करने को उत्सुक है लेकिन उन पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप भगवा ब्रिगेड में दुविधा पैदा कर रही है। यह पूछे जाने पर कि क्या भ्रष्टाचार का आरोप मुद्दा है? भाजपा नेता ने कहा कि भाजपा गंगा नदी के समान है जहा विभिन्न नदियां आकर मिलती हैं। हालांकि राय ने भाजपा का दामन थामने की अटकलों पर खामोशी अख्तियार कर रखा है। वहीं उनके एक करीबी सहयोगी ने हाल में कहा था कि वह दीपावली के बाद भाजपा में शामिल हो सकते हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप