राज्य ब्यूरो, कोलकाता : भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने तृणमूल कांग्रेस की राष्ट्रीय स्तर पर विस्तार की रणनीति पर तंज कसते हुए कहा कि ममता बनर्जी दूसरे राज्यों में अपनी दुकान खोल रही हैं। इससे कोई लाभ नहीं होने वाला। माकपा ने भी ऐसा करने की कोशिश की थी लेकिन आज वह दूरबीन से ढूंढने पर भी नजर नहीं आती। सब्यसाची दत्ता के भाजपा छोड़कर भाजपा छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में लौट जाने पर घोष ने कहा कि कुछ लोग कहां रहेंगे, यह तय ही नहीं कर पा रहे। ऐसे लोग जितनी जल्दी पार्टी छोड़कर चले जाएंगे, उतना ही अच्छा है।

पार्टी खुद को सहेजकर अच्छी तरह से काम कर पाएगी। घोष, जो कि बंगाल भाजपा के पूर्व अध्यक्ष भी रहे हैं, ने आगे कहा कि सब्यसाची दत्ता को पार्टी में महत्वपूर्ण दायित्व सौंपा गया था। सम्मान दिया गया था। पार्टी ने अपनी तरफ से कोई कमी नहीं की थी। विधानसभा चुनाव में उन्हें टिकट दिया गया था। काम करने का मौका दिया गया था।इसके बावजूद वे पार्टी छोड़कर चले गए तो क्या किया जा सकता है?

घोष ने कहा कि बंगाल में भाजपा को स्थापित करने में जिन लोगों का योगदान रहा है, वे आज बहुत अच्छी स्थिति में है। बहुत से नेता एक-एक करके भाजपा में आए और अब जा रहे हैं। उनके जाने से पार्टी पर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है। लखीमपुर की घटना पर घोष ने कहा कि लखीमपुर में क्या हुआ, यह वहां के लोग तय करेंगे।

Edited By: Vijay Kumar