जागरण संवाददाता, कोलकाता : शहर में गुंडों का राज चल रहा है। कोई इतना निर्दयी कैसे हो सकता है? सरेआम मानवता का हनन हो रहा है। किसी बुजुर्ग पर हाथ उठाना कहा कि बहादुरी है? यह उद्वेग एक बेटी का है, जो अपने पिता के खोने से मर्माहत है। दरअसल, गुरुवार को शहर के भवानीपुर थानांतर्गत इलाके में हार्न बजाने से मना करने को लेकर उपजे विवाद में एक युवक ने बुजुर्ग को थप्पड़ जड़ दिया था, जिससे बुजुर्ग की मौत हो गई थी। इस घटना के बाद पूरे इलाके में रोष व्याप्त हो गया। वहीं मृतक के परिजनों ने पुलिस पर मामले में उचित कार्रवाई का आरोप लगाते हुए कहा कि इस घटना के 24 घंटे बीत गए लेकिन पुलिस ने एक भी अभियुक्त को गिरफ्तार नहीं किया है। मृतक की बेटी ने बताया कि मेरे पापा स्पेंडलाइसिस बीमारी से ग्रसित थे। इसलिए उन्हें उठने बैठने मे परेशानी होती थी। गुरुवार को किसी विशेष काम से बाहर निकले था लेकिन बीमारी की वजह से वह गाड़ी में बैठने में देर हो रही थी। वहीं दूसरी तरफ एक युवक लगातार हार्न बजाए जा रहा था। मैने उसे परेशानी भी बताई लेकिन वह समझने के बजाए उलझ गया और पापा को थप्पड़ जड़ दिया, जिससे वे वहीं गिर गए। इसके बाद आनन फानन में अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। इसके बाद इस बारे में शिकायत दर्ज कराई गई लेकिन इस घटना के 24 घंटे बीतने के बाद भी पुलिस ने किसी को गिरफ्तार नहीं किया है। वहीं पुलिस का कहना है कि इस मामले की जांच की जा रही है। पुलिस आरोपित की तलाश में जुटी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप