राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल की हाई प्रोफाइल भवानीपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए गुरुवार को हुए मतदान में दिनभर मुख्य विपक्षी भाजपा व सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी रहा। छिटपुट हिंसा की भी खबरें सामने आई। इन सबके बीच प्रदेश भाजपा के नेता व पूर्व भारतीय फुटबालर कल्याण चौबे की गाड़ी पर कथित तौर पर हमले की घटना भी सामने आई, जिसका आरोप टीएमसी कार्यकर्ताओं पर लगाया गया है।

चौबे ने आरोप लगाया कि जब वह शाम में भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र के पद्पुकुर इलाके से गुजर रहे थे तो उसी दौरान टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने उनकी गाड़ी रोककर हमला बोल दिया और तोड़फोड़ की।हमले में उनकी गाड़ी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई और गाड़ी का कांच भी टूट गया। इस घटना के खिलाफ उन्होंने स्थानीय पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज कराई है। वहीं, शिकायत के बाद घटना को लेकर चुनाव आयोग ने भी रिपोर्ट मांगी है। हालांकि तृणमूल कांग्रेस ने इस घटना के पीछे हाथ होने से इन्कार किया है।

तृणमूल का आरोप है कि कल्याण चौबे के साथ बाहरी लोग चुनाव क्षेत्र में आए थे। उनमें से एक व्यक्ति को तृणमूल कार्यकर्ताओं ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार व्यक्ति भाजपा का कार्यकर्ता बताया गया है। तृणमूल का आरोप है कि मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए भाजपा नेता चौबे भवानीपुर आए थे। उनके साथ कई बाहरी लोग भी थे।

वहीं, पुलिस का भी कहना है कि यह राजनीतिक हमला नहीं है। पुलिस का सीसीटीवी फुटेज के आधार पर कहना है कि जब भाजपा नेता रास्ते से गुजर रहे थे तो उसी समय किसी शख्स के साथ उनकी नोकझोंक हुई। जिसके बाद यह घटना सामने आई। हालांकि भाजपा ने पुलिस व तृणमूल के दावों को खारिज करते हुए जोर देकर कहा कि इस घटना के पीछे सत्तारूढ़ दल के कार्यकर्ताओं का हाथ है।

Edited By: Vijay Kumar