राज्य ब्यूरो, कोलकाता : कोरोना वायरस से गंभीर रुप से संक्रमित मरीजों के लिए राहत भरी खबर है। कोलकाता के मेडिका अस्पताल में राज्य का पहला प्लाज्मा बैंक सोमवार को शुरू हो जाएगा। यहां कोरोना से 14 दिन पहले ठीक हुए 18 से 60 साल की उम्र के स्वस्थ लोग मानकों को पूरा करने के बाद प्लाज्मा दान कर सकेंगे, जबकि चिकित्सक की सलाह पर प्लाज्मा के लिए मरीज या उसके परिजन मेडिका में संपर्क कर सकेंगे। अस्पताल के चेयरमैन आलोक राय ने बताया कि कोलकाता में पहली बार किसी गैर सरकारी अस्पताल में प्लाज्मा बैंक शुरू हो रहा है। 

उम्मीद है कि इससे लोगों की परेशानी दूर हो जाएगी। उनको प्लाज्मा के लिए भागदौड़ नहीं करनी पड़ेगी। हालांकि, उन्होंने माना कि बैंक तभी कामयाब होगा जब लोग आगे आकर प्लाज्मा दान करेंगे। इसलिए सबसे जरूरी है कि जो लोग कोरोना से ठीक हो गए हैं, वह प्लाज्मा दान करें। वह महिलाएं, जो जीवन में कभी भी एक बार गर्भवती हुई हैं, वो प्लाज्मा दान नहीं दे सकती हैं। इसके साथ शुगर, हाइपरटेंशन, बीपी की बीमारी वाले लोग भी प्लाज्मा नहीं दे सकते हैं। कैंसर पीड़ित, क्रोनिक किडनी, हृदय या फेफड़े की बीमारी से जुड़े लोगों का भी प्लाज्मा नहीं लिया जाएगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस