राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी की भाजपा से सांठगांठ होने का दावा करते हुए कहा कि उन्हें मोदी व ममता की भाषा में कोई फर्क नजर नहीं आता। बंगाल में भाजपा के 77 विधायक ममता की ही देन है। अधीर ने ममता पर निशाना साधते हुए आगे कहा कि कांग्रेस की आलोचना किए बिना उनका खाना हजम नहीं होता।

यह भाजपा से समझौता नहीं तो और क्या है। उन्होंने जिसकी थाली में खाना खाया, आज उसी की थाली में छेद करने की कोशिश कर रही हैं। दूसरी तरफ तृणमूल के राज्यसभा सदस्य सुखेंदु शेखर राय ने पार्टी के मुखपत्र 'जागो बांग्ला' में कहा-' हमने सोचा था कि कांग्रेस का अभी भी अस्तित्व है और वह लोकसभा चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगी लेकिन वह अपने अंदरूनी मामलों को हल करने में ही इतनी व्यस्त है कि भाजपा को चुनौती नहीं दे पाई।इसपर अधीर ने कहा कि कांग्रेस के हारने पर भी उसका अस्तित्व समाप्त नहीं होगा।

----------

सब्यसाची के विस जाकर तृणमूल में शामिल होने के खिलाफ मामला करेगी भाजपा

बंगाल विधानसभा में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी ने कहा कि सब्यसाची दत्ता के विधानसभा जाकर तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने के खिलाफ भाजपा अदालत में मामला करेगी। सुवेंदु ने आगे कहा कि पूजा के बाद राज्यपाल से भी इसकी शिकायत की जाएगी। वहीं राज्य के पंचायत मंत्री सुब्रत मुखर्जी ने कहा कि विधानसभा जाकर ऐसा करने से कोई बहुत बड़ी बात नहीं हो गई। है वे 50 वर्षों से राजनीति में हैं।

विधानसभा में इसपर पाबंदी है, ऐसा कहीं लिखा नहीं है। वहीं विधानसभा अध्यक्ष वबमान बनर्जी ने कहा कि विधानसभा में उनके (सुवेंदु) कक्ष में बहुत से बाहर के लोग आते हैं। सब्यसाची दत्ता तो पूर्व विधायक हैं। वे विधानसभा आ ही सकते हैं, हालांकि विस अध्यक्ष ने यह भी कहा कि विधानसभा में उनके किसी पार्टी का झंडा नहीं थामने पर अच्छा होता।

Edited By: Vijay Kumar