कोलकाता, राज्य ब्यूरो। बंगाल में हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। राज्य में शनिवार को होने वाले चौथे चरण के चुनाव से एक दिन पहले कोलकाता के भवानीपुर इलाके में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के विधानसभा क्षेत्र में सत्तारुढ़ तृणमूल कांग्रेस तथा भाजपा कार्यकर्ताओं में जमकर संघर्ष हुआ। इस दौरान केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के काफिले पर तृणमूल के बदमाशों ने हमला बोल दिया। काफिले में शामिल गाडि़यों में जमकर तोड़फोड़ की गई। इसमें शेखावत की गाड़ी के भी कांच टूट गए। घटना में अनेक भाजपा कार्यकर्ताओं को चोटें लगी है। यह घटना गुरुवार-शुक्रवार की मध्यरात्रि की है।

शेखावत ने तृणमूल कार्यकर्ताओं पर हमले को अंजाम देने का आरोप लगाया है। दूसरी ओर, तृणमूल ने उल्टे भाजपा पर हमले का आरोप लगाया है। दोनों ओर से चेतला थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। केंद्रीय मंत्री ने थाने में खुद शिकायत दर्ज कराई है। इसमें उन्होंने काफिले में शामिल गाडि़यों में जमकर तोड़फोड़ के साथ सामान लूटकर ले जाने का भी आरोप लगाया है।

शेखावत ने दावा किया कि पूरा भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र के चेतला पुलिस थाने के सामने घटा, लेकिन कोलकाता पुलिस मूकदर्शक बन तृणमूल कांग्रेस के गुंडों को देखती रही। बता दें कि भवानीपुर से ही ममता विधायक हैं, हालांकि इस बार इस सीट को छोड़कर वो नंदीग्राम से चुनाव लड़ रही हैं।

क्या है घटना

घटनाक्रम के अनुसार, शुक्रवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का भवानीपुर में जनसंपर्क कार्यक्रम से पहले तैयारियों में भाजपा कार्यकर्ता जुटे थे। इसी बीच गुरुवार देर रात भाजपा कार्यकर्ता अनिमेश दास के घर पर तृणमूल कार्यकर्ताओं ने हमला कर दिया। उनके परिवार को जान से मारने और दुष्कर्म तक की धमकी दी। जब घटना की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए केंद्रीय मंत्री शेखावत चेतला थाने पहुंचे तो आरोप है कि तृणमूल के कार्यकर्ताओं ने उनके काफिले की गाडि़यों को निशाना बनाना शुरू कर दिया।

हमले में तीन-चार गाडि़यां क्षतिग्रस्त हो गईं। साथ ही तृणमूल के 500 से ज्यादा कार्यकर्ताओं ने थाने को घेर लिया। एक-डेढ़ घंटे तक यह उपद्रव चलता रहा। भाजपा के कई वरिष्ठ कार्यकर्ता चोटिल हुए हैं। बाद में अतिरिक्त पुलिसबल बुलाकर कड़ी सुरक्षा के बीच केंद्रीय मंत्री को वहां से बाहर निकालकर गंतव्य तक पहुंचाया गया। आरोप है कि उससे पहले तृणमूल कार्यकर्ताओं ने भवानीपुर सीट से भाजपा प्रत्याशी रुद्रनील घोष की पैदल रैली पर भी हमला किया। इसमें घोष को हल्की चोटें आई।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप