राज्य ब्यूरो, कोलकाता। कोलकाता पुलिस ने महानगर में एक और फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने तारतला इलाके से फर्जी कॉल सेंटर चलाने और विदेशी नागरिकों से ठगी के आरोप में गिरोह के सात लोगों को गिरफ्तार किया है। कोलकाता पुलिस की ओर से बताया गया कि सूचना मिलने के बाद सोमवार देर रात पुलिस ने कार्यालय में छापेमारी की। वहीं से सातों लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने कॉल सेंटर से कुछ आपत्तिजनक सामान जैसे अत्याधुनिक कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल भी जब्त किए हैं।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि यह गिरोह न केवल राज्य या देश में, बल्कि विदेशी नागरिकों को भी तकनीकी सहायता प्रदान करने के नाम पर चूना लगाते थे। पुलिस के अनुसार, इससे पहले इस इलाके में एक फर्जी कॉल सेंटर मिला था। उससे मिली जानकारी के आधार पर इस कार्यालय की तलाशी ली गई। वेबेल आईटी पार्क में तीन मंजिला घर पर छापेमारी के दौरान पुलिस अधिकारी भी दंग रह गए। शहर के बीचों बीच फर्जी कॉल सेंटर चलाया जा रहा था। कई कंप्यूटर, उच्च गुणवत्ता वाले गैजेट की यहां व्यवस्था की गई थी। कई टेलीफोन भी मिले।

एक सप्ताह पहले साल्टलेक में भी फर्जी कॉल सेंटर का हुआ था भंडाफोड़

बता दें कि करीब एक हफ्ते पहले विधाननगर साइबर क्राइम थाने की पुलिस ने साल्टलेक सेक्टर-5 में दो फर्जी कॉल सेंटरों का भंडाफोड़ किया था। रात भर की तलाशी में कॉल सेंटर के निदेशक समेत दस लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

पुलिस के अनुसार जालसाजों ने कॉल सेंटर खोलकर कुछ लोगों को वहां भर्ती भी किया गया था। विभिन्न मोबाइल कंपनियों से नंबर लिए जाते थे और फिर उन्हें तकनीकी सहयोग देने के नाम पर फोन कर उनके बैंक खाते से फ्रॉड किया जाता था। न केवल व्यक्तियों से बल्कि विभिन्न कंपनियों से भी लाखों रुपये की इस तरह धोखाधड़ी का आरोप है। उससे पहले पुलिस ने न्यूटाउन में भी एक कॉल सेंटर पर छापेमारी कर छह लोगों को गिरफ्तार किया था। 

Edited By: Priti Jha