जागरण संवाददाता, कोलकाता : बागुईआटी थानांतर्गत तेघारिया में वीआइपी रोड पर बस की चपेट में आने से एक महिला की मौत हो गई। उसकी पहचान सुदीप्ता चक्रवर्ती के रूप में हुई। वह बेलियाघाट की रहने वाली थी। 49 वर्षीय सुदीप्ता पेशे से नर्स थी। आरोप है कि कंडक्टर से सुदीप्ता को जबरन बस से बीच सड़क पर ही उतार दिया था। वह हड़बड़ाहट में रास्ता पार करने की कोशिश कर रही थी, तभी एक अन्य बस ने उसे कुचल दिया। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। साथ ही मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जानकारी के मुताबिक सुदीप्ता एयरपोर्ट की ओर जाने वाली बस में सवार हुई थी। वीआइपी रोड पर तेघरिया ट्रैफिक सिग्नल से पहले ही बस रूक गई और कंडक्टर ने महिला को बस से उतार दिया। वह जल्दबाजी में रास्ता पार करने की कोशिश करने लगी, तभी नागर खागरा-कोलकाता रूट की गैरसरकारी बस ने उन्हें कुचल दिया। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो बस का अगला और पिछला पहिया सुदीप्ता के उपर से गुजर गया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। शव इतना बुरी तरह कुचल गया था कि पहचान पाना मुश्किल था। बाद में महिला के बैग से मिले पहचान पत्र से उसकी पहचान हुई। पुलिस ने दुर्घटना के लिए जिम्मेदार बस चालक को गिरफ्तार कर लिया।