कोलकाता, जागरण संवाददाता। आज महिलाएं किसी मायने में पुरुषों से पीछे नहीं हैं। उन्होंने खुद को हर क्षेत्र में स्थापित कर यह साबित किया है कि वे पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम कर सकती हैं। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के अग्निशमन विभाग में कभी महिलाएं शामिल ही नहीं हुई लेकिन हाल में कोलकाता हवाई अड्डे के अग्निशमन विभाग में शामिल हुई तानिया सांन्याल (26) एएआइ की पहली महिला फायर फाइटर बन गई है।

तानिया बताती है कि वह बचपन से ही कुछ अलग करना चाहती थी इसलिए उन्होंने इस विभाग में नौकरी के लिए आवेदन किया और आखिरकार उन्हें नौकरी मिल गई।

हालांकि उन्हें पता था कि इस विभाग में महिलाओं की मौजूदगी शून्य स्थिति में है। बावजूद इसके उन्होंने यह तय किया वे इसी विभाग में काम करेंगी। पहली बार नियुक्ति प्रक्रिया के नियम में थोड़ी ढील दी गई थी, जिसकी वजह से उन्हें मौका मिला। वर्तमान में तानिया कोलकाता हवाई अड्डे के अग्निशमन प्रशिक्षण केंद्र में बतौर प्रशिक्षक नियुक्त हैं।

तानिया के आने के चार माह बाद जयपुर की अंजलि मीणा भी इस पेशे में शामिल हुईं,जिसे तानिया द्वारा प्रशिक्षित किया गया। दमदम की रहने वाली तानिया अपने पेशे के प्रति इतनी ईमानदार है कि प्रात: 6 बजे से ही उनकी परेड और डिल प्रशिक्षण शुरू हो जाता है और इसके बाद पूरे दिन प्रशिक्षण केंद्र में वह आग बुझाने के तरीके सिखाती रहती हैं। 

Posted By: Preeti jha