कोलकाता, जागरण संवाददाता। चीनी मूल के कोलकाता के एक व्यक्ति को शनिवार सुबह उसकी 60 वर्षीय पत्नी और बुजुर्ग पिता की हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया है। शुक्रवार को दोनों को टेंगरा में उनके घर पर खून से लथपथ अवस्था में पाया गया था। कोलकाता के टेंगरा इलाके को कोलकाता के चाइनाटाउन के रूप में भी जाना जाता है।

पुलिस ने कहा कि रात भर की लंबी जांच के बाद आरोपी ली वान सांग ने कबूल किया कि उसने अपने परिवार के दोनों सदस्यों की हत्या की है। उसने बताया कि उसका विवाहित जीवन सही नहीं चल रहा था। आरोपी के घर में एक लोहे की बाल्टी पाई गई है और आशंका जताई जा रही है कि उसने हत्या में इसी का इस्तेमाल किया होगा। पुलिस को इस घटना की सूचना सुबह मिली थी।

पुलिस ने जब मौके पर जाकर देखा तो पाया कि महिला और उसके ससुर गंभीर हालात में थे। दोनों को आनन-फानन में अस्पताल पहुंचाया गया। पुलिस ने बताया कि डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया और उसके ससुर की इलाज के दौरान मौत हो गई। लालबाजार में कोलकाता पुलिस मुख्यालय का गृह विभाग भी स्थानीय टेंगरा पुलिस स्टेशन के अधिकारियों की सहायता के लिए मौके पर पहुंचा। पुलिस ने कहा कि टेंगरा में उनके घर के 10 फुट ऊंचे लोहे का गेट अंदर से बंद था।

पुलिस ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज से पता चलता है कि महिला के पति शाम 7.11 बजे घर से निकले थे और रात 8.20 बजे लौटे थे। जब वह आए तो पाया कि घर को अंदर से कुंडी लगी थी। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार ली वान सांग ने फिर घर की ऊंची दीवार पर चढ़कर घर में प्रवेश किया तथा अपनी पत्नी और पिता को आंगन में लोहे की बाल्टी से पीट-पीटकर हत्या कर दी। दंपती की दो बेटियां और एक बेटा है।

ससुर, ली कसौंग, एक बहुत ही सम्मानित रिकॉर्ड कीपर और स्थानीय समुदाय के पंचांग पाठक थे। उनका बेटा भी उनके काम में साथ देते था। उनकी बहू ली हान मेइहा एक हाउस वाइफ थी। स्थानीय लोगों ने दावा किया कि यह हत्या क्षेत्र में प्रॉपर्टी डेवलपर्स की बढ़ती रुचि से जुड़ी है। हालांकि, सूत्रों का यह भी कहना है यह हत्या पारिवारिक विवाद का नतीजा हो सकती है। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप