राज्य ब्यूरो, कोलकाता। West Bengal Assembly Election 2021: बंगाल में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सियासी पारा चढ़ा हुआ है। भाजपा और सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नेता ना सिर्फ एक-दूसरे पर निशाना साधने में जुटे हैं, बल्कि अब राज्य में स्कूटी पॉलिटिक्स ने भी हलचल बढ़ा दी है। एक दिन पहले गुरुवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पेट्रोल व रसोई गैस की बढ़ती कीमतों के विरोध में अपने घर से राज्य सचिवालय नवान्न तक ई-स्कूटी पर बैठकर गईं थीं, वहीं इसके जवाब में शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी स्कूटी चलाती हुई नजर आईं। राज्य के एक दिवसीय दौरे के दौरान स्मृति ने कोलकाता से सटे दक्षिण 24 परगना जिले के सोनारपुर इलाके में एक रोड शो के दौरान स्कूटी चलाई। रोड शो के बाद स्मृति ने ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा और कहा कि राज्य में हिंसा ने ममता बनर्जी के शासन को परिभाषित किया है। अब यहां भी कमल खिलेगा।

स्मृति की अगुआई में ये रोड शो आयोजित किया गया, जिसमें जबरदस्त भीड़ देखने को मिली। रोड शो में भाजपा कार्यकर्ताओं ने बाइक समेत हिस्सा लिया। स्मृति के साथ बंगाल में भाजपा की कद्दावर नेता रूपा गांगुली सहित दूसरे बड़े नेता भी नजर आए। इस दौरान स्मृति ने कहा कि हम आभारी हैं बंगाल की जनता के, जो भाजपा को अपार जनसमर्थन दे रही है। बंगाल के लोग भाजपा के कार्यक्रमों में बढ़-चढ़ कर शामिल हो रहे हैं, जो इस बात का संकेत है कि इस बार बंगाल में कमल का फूल खिलेगा।

परिवर्तन यात्रा में भी लिया हिस्सा 

स्मृति ने यहां भाजपा की परिवर्तन यात्रा में भी हिस्सा लिया। दूसरा, हाल में ममता बनर्जी द्वारा एक रैली में पीएम के खिलाफ की गईं आपत्तिजनक टिप्पणीं को लेकर भी उन्होंने कड़ी निंदा की। स्मृति ने कहा कि देश के किसी सीएम के मुंह से पीएम के लिए ऐसे शब्द सुनना वाकई खराब है। हालांकि, साथ ही कहा कि वह ममता बनर्जी से किसी प्रकार की राजनीतिक लिहाज की उम्मीद नहीं करती हैं। गौरतलब है कि ममता ने गत बुधवार को हुगली में एक रैली के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दंगेबाज कहा था।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप