कोलकाता, राज्य ब्यूरो। कोलकाता के साल्टलेक इलाके में दशहरे पर रावण का 50 फुट का पुतला जलाया गया। साल्टलेक सांस्कृतिक संसद कमेटी की ओर से साल्टलेक के सेंट्रल पार्क में रावण दहन कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। रावण के साथ मेघनाथ और कुंभकरण के ४०-४० फुट के पुतले भी जलाए गए। इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य बुराई पर अच्छाई की जीत का जश्न मनाने के साथ लोगों के सामने देश की समृद्ध संस्कृति और परंपरा को पेश करना था।

सौरव गांगुली सहित ये रहे उपस्थित

कार्यक्रम में बीसीसीआइ अध्यक्ष सौरव गांगुली, कोलकाता के मेयर फिरहाद बाबी हाकिम, अग्निशमन मंत्री सुजीत बोस, तृणमूल विधायक विवेक गुप्त, साल्टलेक सांस्कृतिक संसद के अध्यक्ष प्रदीप तोदी, साल्टलेक सांस्कृतिक संसद के मार्गदर्शक ललित बेरीवाला, साल्टलेक सांस्कृतिक संसद के सचिव नितिन सिंघी, लक्स इंडस्ट्रीज लिमिटेड के अशोक तोदी के साथ अन्य विशिष्ट जन उपस्थित थे। इस आयोजन में बड़ी संख्या में लोगों ने उपस्थित होकर रावण दहन तथा आतिशबाजी का आनंद उठाया। प्रदीप तोदी ने कहा-'बंगाल के गौरव सौरव गांगुली का इस वर्ष हमारे कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहना हमारे लिए गर्व की बात है। रावण का पुतला जलाने के अलावा कार्यक्रम में फायर शो का भी आयोजन किया गया था।'

विधिवत तरीके से कई रस्में भी निभाई

ललित बेरीवाला ने कहा-' विजयादशमी बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। हमारे इस कार्यक्रम की सफलता के पीछे विभिन्न राज्यों के कलाकारों की मेहनत शामिल है, जिन्होंने दिन-रात कड़ी मेहनत कर रावण, मेघनाथ और कुंभकरण का पुतला तैयार किया। इन पुतलों को जलाने से पहले संस्था की तरफ से विधिवत तरीके से कई रस्में भी निभाई गईं।

Edited By: Sumita Jaiswal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट