राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने शनिवार को राज्य की मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सुप्रीमो ममता बनर्जी पर पलटवार करते हुए कहा कि उन्हें हर दो महीने में क्यों, हर महीने दिल्ली जाना चाहिए। दिलीप का यह बयान ममता द्वारा एक दिन पहले पांच दिवसीय दिल्ली दौरे के बाद कोलकाता लौटने से पहले दिए उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि अब वह हर दो महीने में दिल्ली आएंगी। घोष ने तंज कसते हुए कहा कि दो महीने क्यों, उन्हें (मुख्यमंत्री को) हर महीने दिल्ली जाना चाहिए। भाजपा नेता ने साथ ही नसीहत दी कि ममता बनर्जी पहले बंगाल संभालें, फिर दिल्ली देखें।

घोष ने इसके अलावा तृणमूल की ओर से बंगाल में सात विधानसभा सीटों पर जल्द से जल्द उपचुनाव कराए जाने की लगातार की जा रही मांग को लेकर भी तंज कसा और कहा कि ममता बनर्जी को सीएम पद पर बने रहने के लिए उपचुनाव की इतनी हड़बड़ी है। शनिवार को कोलकाता के इको पार्क में सुबह की सैर के बाद पत्रकारों से बात करते हुए घोष ने कहा- कोरोना संक्रमण के कारण राज्य में लोकल ट्रेन नहीं चल रही है, लेकिन उपचुनाव की सत्तारूढ़ दल को जल्दी है।

ममता बनर्जी अपना मुख्यमंत्री पद बरकरार रखने के लिए जल्द से जल्द उपचुनाव की मांग कर रही हैं। दरअसल हाल में संपन्न विधानसभा चुनाव में ममता नंदीग्राम सीट पर हार गई थी, ऐसे में मुख्यमंत्री बने रहने के लिए उन्हें छह महीने के अंदर विधानसभा का सदस्य बनना होगा, वरना उनकी कुर्सी पर संकट आ सकता है। इसीलिए उपचुनाव उनके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है।

घोष ने हालांकि आगे कहा कि मुझे लगता है कि उपचुनाव समय पर ही होंगे। उन्होंने कहा कि बंगाल में व्यावहारिक रूप से अभी लॉकडाउन चल रहा है। उन्होंने ममता पर निशाना साधते हुए कहा कि नगर निगमों व पालिकाओं में चुनाव पिछले दो साल से नहीं हो रहे हैं, लेकिन वह केवल उपचुनाव की बात कर रही हैं। अगर उन्हें लगता है कि स्थिति सामान्य हो गई है तो लॉकडाउन संबंधी प्रतिबंध हटा दें।

Edited By: Vijay Kumar