कोलकाता, राज्य ब्यूरो। बंगाल विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के लिए मंगलवार को अधिसूचना जारी होगी। पहले चरण में राज्य के पांच जिलों की 30 विधानसभा सीटों के लिए वोट पड़ेंगे। इनमें पुरुलिया, पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर, झारग्राम और बांकुड़ा जिले शामिल हैं। पुरुलिया व झारग्राम की सभी विधानसभा सीटों के लिए मतदान होंगे जबकि पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर और बांकुड़ा की कुछ सीटों के लिए वोट पड़ेंगे। वहां की बाकी सीटों के लिए दूसरे चरण में मतदान होगा।

पहले चरण में नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि नौ मार्च है और 10 मार्च तक नामांकन की स्क्रूटनी की जा सकेगी। नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि 12 मार्च है। गौरतलब है कि बंगाल में इस बार आठ चरणों में विधानसभा चुनाव होंगे। चुनाव की तारीखों के एलान के साथ ही बंगाल में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद राज्य सरकार क्या-क्या कर सकती है और क्या नहीं, इसे लेकर राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी आरिज आफताब की ओर से सभी जिलाधिकारियों को दिशा-निर्देश भेजा जा चुका है। इसे लेकर राज्य के मुख्य सचिव अलापन बंद्योपाध्याय की अगुआई में तीन सदस्यीय स्क्रीनिंग कमेटी भी गठित की गई है, जिसमें गृह सचिव हरिकृष्ण द्विवेदी भी शामिल हैं।

गौरतलब है कि आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद बंगाल में नए सिरे से कोई विकासमूलक कार्य नहीं किया सकेगा हालांकि जो काम पहले से चल रहे हैं, वे जारी रहेंगे। जारी परियोजनाओं को लेकर किसी तरह की समस्या होने पर स्क्रीनिंग कमेटी उसपर निर्णय लेगी। 

 80 वर्ष से अधिक उम्र वालों को टिकट नहीं देगी तृणमूल

इस बीच तृणमूल कांग्रेस की चुनाव कमेटी ने घोषणा की है कि 80 साल से अधिक उम्र वालों को इस बार टिकट नहीं मिलेगा। सोमवार को पार्टी की चुनाव समिति की ओर से प्रेस कांफ्रेंस की गई जिसमें इस फैसले की जानकारी दी गई है। खबर है कि महिलाओं, युवाओं और नए चेहरे अधिक होंगे। समिति के सदस्य और ममता कैबिनेट में मंत्री सुब्रत मुखर्जी ने कहा कि जिन नेताओं की उम्र 80 साल से अधिक हो गई है, इस बार उन्हें टिकट नहीं दिया जा रहा है। प्रत्याशियों के नामों पर अंतिम निर्णय स्वयं तृणमूल प्रमुख लेंगी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021