कोलकाता, राज्य ब्यूरो। West Bengal Assembly Election 2021: बंगाल में विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण के लिए मंगलवार को अधिसूचना जारी हो गई है। चुनाव के लिए भाजपा ने अब अपनी तैयारियां और तेज कर दी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य में धुंआधार 20 रैलियां करेंगे। पीएम मोदी सात मार्च को कोलकाता के ब्रिगेड परेड मैदान से रैली का आगाज करेंगे। बताया जा रहा है कि बंगाल में पीएम मोदी कुल 20 रैलियां करेंगे।

बंगाल भाजपा इकाई ने हर बड़े जिलों में दो और छोटे जिलों में एक रैली का केंद्रीय टीम से आग्रह किया था। भाजपा ने पीएम मोदी की 25 से 30 रैलियां कराने की मांग की थी। लेकिन फिलहाल बंगाल में मोदी की 20 रैलियों की ही रूपरेखा तय की गई है। हालांकि रैलियों का स्थान और तारीख तय होना अभी बाकी है।

बताया जा रहा है कि पीएम मोदी की पहली रैली कोलकाता के सबसे बड़े मैदान ब्रिगेड परेड मैदान में होगी, जिसमें करीब 15 लाख की भीड़ जुटाने का लक्ष्य रखा गया है। भाजपा की योजना बंगाल की राजनीति की सबसे बड़ी रैली कराने की है। पीएम मोदी के अलावा केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा करीब 50-50 चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे।

मतुआ समुदाय के तीर्थस्थल का भ्रमण करेंगे पीएम मोदी

बंगाल विधानसभा चुनाव में अहम भूमिका निभाने वाले तथा 70 से अधिक सीटों पर प्रभाव रखने वाले मतुआ समुदाय के वोट बैंक को आकर्षित करने के लिए भाजपाा ने एक और मास्टर स्ट्रोक खेला है। 27 मार्च को बंगाल में मतदान शुरू हो रहा है। इसके पहले 26 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बांग्लादेश के सफर को होंगे तथा वह अगले दिन 27 मार्च को मतुआ समुदाय के प्रतिष्ठाता हरिचांद ठाकुर  की जन्मस्थली तथा मतुआ समुदाय का तीर्थ स्थल गुड़ाकांदी का भ्रमण करेंगे। 

भाजपा नेतृत्व तथा मतुआ महासंघ के केंद्रीय नेता का कहना है कि अगर पीएम मोदी ऐसा करते हैं तो वह दुनिया भर में फैले पांच करोड़ से अधिक मतुआ के दिलों में जगह बना लेंगे। क्योंकि वह देश के पहले पीएम होंगे जो मतुआ समुदाय के तीर्थ स्थल का दौरा करेंगे। सूत्रों का कहना है कि पीएम के साथ बंगाल में मतुआ समुदाय से भाजपा सांसद शांतनु ठाकुर भी रह सकते हैं।

बंगाल में विधानसभा की 294 सीटें हैं। पिछले चुनाव में ममता की टीएमसी ने सबसे ज्यादा 211 सीटें, कांग्रेस ने 44, लेफ्ट ने 26 और बीजेपी ने मात्र तीन सीटों पर जीत दर्ज की थी। जबकि अन्य ने दस सीटों पर जीत हासिल की थी। यहां बहुमत के लिए 148 सीटें चाहिए। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021