कोलकाता, राज्य ब्यूरो। छुट्टी के दिन ड्यूटी पर आए मजदूरों को काम नहीं दिए जाने को लेकर  शुक्रवार को हुगली जिले के डानकुनी स्थित एक दवा की कैप्सूल बनाने वाली कंपनी के श्रमिकों ने गेट पर विरोध प्रदर्शन किया। घटनास्थल पर पुलिस पहुंचकर परिस्थिति को नियंत्रित किया।

  श्रमिकों का आरोप है कि प्रबंधन ने जोर जबरदस्ती हमें काम से बाहर निकाल दिया है। शुक्रवार सुबह रोजाना की तरह डानकुनी स्थित बायो कैप्स इंडिया लिमिटेड कारखाने के श्रमिक काम पर पहुंचे तो प्रबंधन के साथ अनबन होने के बाद गुस्साए श्रमिकों ने गेट पर विरोध प्रदर्शन करना शुरू कर दिया।  तृणमूल टेड्र यूनियन के नेता अनय चटर्जी का कहना है कि प्रबंधन एवं मजदूरों के बीच कुछ गलतफहमी होने के कारण यह स्थिति उत्पन्न हुईं है। हमलोगों ने फिलहाल समस्या के समाधान के लिए प्रबंधन से बात की है। शनिवार से फिर उसी तरह कारखाने में उत्पादन का काम शुरु होगा।

 इस मामले को लेकर 9 नवम्बर को प्रबंधन के साथ एक बैठक होगी। वहीं, प्रबंधन की तरफ से कहा गया है कि समझौते के अनुसार आज छुट्टी थी। इसी कारण श्रमिकों को काम नहीं करने की सलाह दी गई। इधर, मजदूरों का आरोप है स्थाई श्रमिकों से काम नही कराकर प्रबंधन ठेका मजदूरों से काम करा रहा था। इस कारखाने में दवा की कैप्सूल बनाई जाती है। कारखाने में स्थाई तथा अस्थाई रूप से करीब दो सौ मजदूर काम करते हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस