जागरण संवाददाता, कोलकाता : दक्षिण 24 परगना जिले के बारुईपुर थानांतर्गत बारुईपुर सेंट्रल जेल में मादक पदार्थो की तस्करी करने पहुंची महिला और उसके पुरुष मित्र को गिरफ्तार किए जाने की घटना प्रकाश में आई है। उनकी पहचान

आजाद लस्कर और पुतुल घोराई के रूप में हुई है। आजाद सोनारपुर थाना क्षेत्र के विद्याधरपुर का रहने वाला है, जबकि पुतुल कसबा की रहने वाली है। इनके पास से 200 ग्राम गांजा और दो मोबाइल फोन जब्त किया गया। शुक्रवार को दोनों को बारुईपुर अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस दोनों से पूछताछ कर पता लगाने में जुटी है कि मादक तस्करी में जेल का ही कोई कर्मचारी या पुलिस तो शामिल नहीं है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक आजाद और पुतुल का अक्सर बारुईपुर सेंट्रल जेल आना जाना था। कारण पूछने पर हर बार कोई न कोई बहाना बना देते थे। गुरुवार की शाम को भी दोनों सेंट्रल जेल पहुंचे थे। उनके पास लाल रंग का एक बैग भी था। यह देख पुलिस कर्मियों को संदेह हुआ। उन्हें रोक कर बैग की तलाशी गई, तो उसमें से गांजा और दो मोबाइल फोन बरामद हुआ। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप