जागरण संवाददाता, कोलकाता : दक्षिण 24 परगना जिले के नरेंद्रपुर थाना क्षेत्र में एक बार फिर एक महिला की गला काटकर हत्या की वारदात प्रकाश में आई है। शुक्रवार शाम घर में बिस्तर पर सिर कटी लाश बरामद हुई। मृतका का नाम कृष्णा वैद्य है। मामले की जांच में उतरी पुलिस को संदेह है कि दांपत्य कलह के चलते पति ने ही उसकी हत्या कर दी। वारदात के बाद से वह फरार है। उसका नाम बापी वैद्य है। पता चला है कि कृष्णा बापी की तीसरी पत्नी थी। पुलिस ने उसके खिलाफ आइपीसी की धारा 498ए और 302 के तहत मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक पहले पति से अलग होने के बाद कृष्णा ने दो शादियां कर चुके बापी से दूसरी शादी की थी। वह पेशे से वाहन चालक है। वह बापी के साथ नरेंद्रपुर के कुसुंबा इलाके में किराए का कमरा लेकर रहती थी। आरोप है कि बापी घर खर्च चलाने के लिए कृष्णा को रुपये नहीं देता था। उल्टे उसके जमा किए रुपये भी छीन लेता था। उसे कृष्णा के चरित्र पर भी संदेह था। उसे लगता था कि किसी और पुरुष के साथ कृष्णा के संबंध हैं। इसे लेकर दांपत्य जीवन में कलह थी। बापी जब गाड़ी चलाता था तो कई-कई दिन घर नहीं आता था। गाड़ी खराब होने के कारण पिछले 20-22 दिनों से घर पर ही था। कृष्णा की एक बेटी भी है। शुक्रवार को कृष्णा को बेटी के घर जाने की बात थी, लेकिन वह नहीं गई। बेटी ने फोन किया तो मोबाइल बंद मिला। इसके बाद शाम को बेटी मां के घर पहुंच गई। घर में घुसते ही उसने मां की सिर कटी लाश बिस्तर पर पड़ी देखी। वह चीखने-चिल्लाने लगी, जिसे सुन पड़ोसी वहां पहुंच गए। तुरंत इसकी सूचना नरेंद्रपुर थाने को दी गई। कुछ देर में पुलिस भी पहुंच गई। शव को कब्जे में लेकर शनिवार को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। गौरतलब है कि नरेंद्रपुर के तिउड़िया इलाके में दीपक और अल्पना विश्वास नामक दंपती की भी गला काटकर हत्या कर दी गई थी। बीते 30 जुलाई को दोनों के शव घर के शौचालय में दो सूटकेस में भरे मिले थे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran