जागरण संवाददाता, कोलकाता : मुख्यमंत्री व तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी के निर्देश पर 'दीदी के बोले' कार्यक्रम के तहत दक्षिण 24 परगना जिले के मथूरापुर से तृणमूल सांसद चौधरी मोहन जटुआ शनिवार दोपहर भाजपा के दबदबे वाले रायदीघी पहुंचे। वहां भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता तपन कपाट और मिताली कपाट के घर पर उन्होंने खाना खाया। खाने में भात-दाल, आलू-करेले का भुजिया, पापड़, आलू-पोस्ता की सब्जी व मछली शामिल थे। दंपती का कहना है कि सीएम जटुआ सभी के सांसद हैं। इसी नाते यथासंभव उनका सम्मान किया गया। वहीं, सांसद ने भी कहा कि वह इलाके के लोगों से मिले वोट के बलबूते ही चुनाव में जीते हैं। जन संपर्क के लिए निकले थे। इसी कड़ी में यहां पहुंचे थे। इन लोगों ने खाने-पीने का अनुरोध किया तो वे मना नहीं कर सके। मालूम हो कि रायदीघी के 190 नंबर बूथ, जहां कपाट दंपती के घर सीएम जटुआ ने खाना खाया, वहां इस बार हुए लोकसभा चुनाव में वह भाजपा से पिछड़ गए थे। यहां की जिम्मेदारी तापस कपाट को ही दी गई थी।

लोगों से सुनीं समस्याएं

तृणमूल सांसद ने रायदीघी व आसपास के इलाकों में घूमकर लोगों की समस्याएं सुनीं। लोगों ने बिजली-पानी के साथ ही सड़क की बदहाली से हो रही परेशानी से उन्हें अवगत कराया। सांसद ने समस्याओं के निवारण का आश्वासन दिया। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन के बाद तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी ने जनसंपर्क बढ़ाने के लिए पार्टी के सांसद, विधायक और नेताओं को आम लोगों के बीच जाने का निर्देश दिया है। इस पर अमल करते हुए तृणमूल सांसद-विधायक और नेता राज्यभर में लोगों के बीच पहुंचकर उनकी समस्याएं सुन रहे हैं। उनके घरों में रूक रहे हैं। खाना-पीना कर रहे हैं और समस्याओं के समाधान का आश्वासन दे रहे हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran