कोलकाता, एएनआइ। सारदा चिट फंड घोटाले में कलकत्ता हाई कोर्ट ने शुक्रवार को राजीव कुमार की गिरफ्तारी वारंट पर रोक को 20 अगस्त तक बढ़ा दिया है। 

सारधा चिटफंड के बाद अब रोजवैली मामले में पूछताछ के लिए सीबीआइ ने कोलकाता पुलिस के पूर्व आयुक्त राजीव कुमार को तलब किया था। हालांकि पूर्व सीपी ने पेश होने में असमर्थता जताते हुए एक माह का समय मांगा है। सूत्रों के अनुसार, गुरुवार सुबह सीबीआइ के 2 अधिकारियों ने सीआइडी मुख्यालय भवानी भवन पहुंचकर रोजवैली मामले में पूछताछ के लिए आज ही पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार को पेश होने के लिए नोटिस थमाया। इसके कुछ घंटे बाद ही सीआइडी अधिकारियों ने सीजीओ काम्प्लेक्स में सीबीआइ कार्यालय पहुंचकर नोटिस का जवाब थमाया। पत्र में पूर्व सीपी ने हाजिर होने में असमर्थता जताते हुए एक माह का समय मांगा है।

गौरतलब है कि इससे पहले सीबीआइ ने सारधा मामले में पूर्व सीपी राजीव कुमार से शिलांग में मैराथन पूछताछ की थी। इसके बाद गिरफ्तारी से बचने के लिए राजीव कुमार ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। कोर्ट ने पूर्व सीपी की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी, मगर गत 17 मई को सुप्रीम कोर्ट ने गिरफ्तारी पर रोक की मियाद बढ़ाने से इनकार कर दिया था। इसके बाद उन्होंने बारासात अदालत में अग्रिम जमानत का आवेदन किया था, लेकिन त्रुटि के चलते आवेदन को खारिज कर दिया गया था। इसके बाद राजीव कुमार ने सीबीआइ के नोटिस को खारिज करने के लिए कलकत्ता हाईकोर्ट में आवेदन किया था। गत दो जुलाई को हुई सुनवाई में कोर्ट ने राजीव की गिरफ्तारी पर रोक की मियाद बढ़ा दी थी।

बंगाल की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sachin Mishra