-दमकल की 10 गाड़ियों ने घंटों की मशक्कत के बाद आग पर पाया काबू

-अग्निकांड में लाखों की नगदी व सामान जला, शार्ट सर्किट से आग लगने की आशंका

जागरण संवाददाता, कोलकाता : खिदिरपुर इलाके में स्थित बस्ती में बनी एक झोपड़ी अचानक आग लग गई। आग के विकराल रूप ने आसपास की झोपड़ियों को भी चपेट में ले लिया। दमकल की 10 गाड़ियों की मदद से आग पर काबू पाया गया। तंग जगह होने की वजह से दमकल कर्मियों को परेशानी से जूझना पड़ा। अग्निकांड में 30 झोपड़ियां जलकर खाक हो गईं जिसमें रखे सामान व नगदी में स्वाहा हो गई। सूत्रों के अनुसार गुरुवार दोपहर करीब 1 बजे साउथ पोर्ट थाना अंतर्गत खिदिरपुर के भुकैलास रोड स्थित बस्ती में बनी एक झोपड़ी से आग की लपटें निकलने से अफरा तफरी मच गई। ज्वलनशील पदार्थ होने की वजह से आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। देखते ही देखते पूरा इलाका काले धुएं में ढक गया। सूचना पर पुलिस के साथ ही दमकल की 10 गाड़ियां भी पहुंच गई। लेकिन तंग जगह होने की वजह से पानी की गाड़ियां मौके पर नहीं पहुंच सकीं। इसके बाद दमकल कर्मियों ने जान हथेली में लगाकर टाली की छतों में खड़े होकर आग को काबू करने का प्रयास शुरू किया। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। लेकिन तब तक 30 झोपड़ियां जलकर खाक हो चुकी थीं। साथ ही अंदर रखे सामान और नगदी भी जल गई। सर्वाधिक नुकसान बस्ती में रहने वाली सिमरन को हुआ। 29 अगस्त को उसकी बेटी की शादी होने वाली थी जिसके लिए खरीदे गए सामान व जेवरात आदि जल गए। उधर, बस्ती के लोगों ने फायर विभाग पर देरी से पहुंचने का आरोप लगाया है। पता चला कि बांस पर लगे पावर प्लग पर मोबाइल को चार्ज में लगाते वक्त शार्ट सर्किट से अग्निकांड की घटना हुई। दमकल विभाग ने घटना की जांच शुरू कर दी है।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran