कोलकाता, राज्य ब्यूरो। West Bengal Assembly Election 2021: बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में नेताओं के पाला बदल से पार्टी की परेशानियां बढ़ती जा रही हैं। सूत्रों का कहना है कि अब मंत्री, पूर्व मंत्री, सांसद व विधायक समेत 16 हैवीवेट तृणमूल नेताओं के भाजपा में शामिल होने की संभावना है। 30 जनवरी को गृहमंत्री व भाजपा के कद्दावर नेता अमित शाह बंगाल दौरे पर आ रहे हैं। माना जा रहा है कि उसी दिन ये नेता भाजपा में शामिल होंगे। हाल में तृणमूल कांग्रेस के नौ विधायक, एक सांसद भाजपा में शामिल हुए हैं। इसके बाद तृणमूल के दो मंत्री लक्ष्मीरतन शुक्ला व राजीब बनर्जी ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है।

तृणमूल के पूर्व मंत्री व कद्दावर नेता सुवेंदु अधिकारी 19 दिसंबर को शाह की मौजूदगी में अपने छह विधायकों के साथ भाजपा शामिल हुए हैं। इसके अलावा तृणमूल के दो और विधायक मिहिर गोस्वामी व अरिंदम भट्टाचार्य ने हाल में भगवा झंडा थाम लिया है। सूत्रों का कहना है कि अब मंत्री, पूर्व मंत्री, सांसद व विधायक समेत 16 हैवीवेट तृणमूल नेताओं के भाजपा में शामिल होने की संभावना है। 30 जनवरी को अमित शाह बंगाल दौरे पर आ रहे हैं। माना जा रहा है कि शाह की सभा ये नेता भाजपा में शामिल होंगे। इस सूची में पूर्व मंत्री राजीब बनर्जी, मंत्री साधन पांडे, पूर्व मंत्री लक्ष्मीरतन शुक्ला, सांसद शिशिर अधिकारी, सांसद दिब्येंदु अधिकारी, सांसद सीएम जटुआ, सांसद प्रतिमा मंडल, सांसद आफरीन अली, राज्यसभा सदस्य अबीर विश्वास, विधायक जितेंद्र तिवारी, विधायक वैशाली डालमिया, विधायक बिश्वनाथ पड़ियाल, विधायक दीपक अधिकारी, विधायक दीपक हल्दर, विधायक उदयन गुहा व विधायक प्रबीर घोषाल का नाम शामिल है।

तृणमूल कांग्रेस में इन दिनों बागी नेताओ की फेहरिश्त लगातार बढ़ती जा रही है। ज्यादातर नेता पार्टी के रणनीतिकार प्रशांत किशोर की कार्यशैली से काफी खफा हैं। इसके अलावा कुछ नेता पार्टी में उचित सम्मान नहीं मिलने का भी रोना रो रहे हैं। वहीं, भाजपा का कहना है कि तृणमूल के अनगिनत नेता पार्टी के संपर्क में हैं। अमित शाह ने बंगाल भाजपा को विधानसभा चुनाव में 200 सीटें जीतने का लक्ष्य दिया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021