संवाद सूत्र, मेदिनीपुर : पश्चिम मेदिनीपुर जिला अंतर्गत मेदिनीपुर के विभिन्न भागों में मंगलवार को स्वामी विवेकानंद को याद किया गया। वक्ताओं ने नई पीढ़ी को उनके आदर्शों से से सीख लेने की प्रेरणा दी।

मेदिनीपुर के चूआडांगा हाईस्कूल और पांचखुरी स्थित देशबंधु शिक्षा मिशन में आयोजित इस कार्यक्रम में ताराशंकर महापात्र, ओंकार पंडा, नंददुलाल राय चौधरी आदि उपस्थित रहे। रंगारंग व सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन के बीच स्वामी विवेकानंद पर पूछे गए सवालों का जवाब भी दिया गया। वक्ताओं ने कहा कि 125 साल पहले स्वामी विवेकानंद ने जो संभाषण शिकागो में दिया था, उसकी प्रासंगिकता आज कम होने के बजाय और बढ़ी है, क्योंकि आज समूचा विश्व शांति की तलाश में भटक रहा है। संकीर्णता के चलते ही तमाम समस्याएं उत्पन्न हो रही है। इससे बचने का एकमात्र उपाय यही है कि हम सभी धर्मों को आदर देने की भावना अपने अंदर विकसित करें और मनुष्य को मनुष्य समझें। तभी हम खुशहाल विश्व की कल्पना कर सकते हैं। संकीर्णता से हर दौर में मानवता का नुकसान ही हुआ है।

Posted By: Jagran