संवाद सूत्र, मेदिनीपुर : पश्चिम मेदिनीपुर जिला अंतर्गत मेदिनीपुर मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में मंगलवार से स्वास्थ्य परिसेवा पूरी तरह से स्वाभाविक हो गई। चिकित्सकों के काम पर लौट आने से मरीजों व उनके परिजनों ने राहत की सांस ली।

बता दें कि पिछले एक सप्ताह से जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल के चलते संस्थान में स्वास्थ्य और चिकित्सा व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई थी। इससे मरीजों का बुरा हाल था। हड़ताल से नाराज परिजनों व आम लोगों ने विरोध में सड़क जाम तक किया था। सोमवार से ही मामले में सुलह के आसार नजर आने लगे थे। अधिकांश विभागों में आंशिक काम-काज शुरू भी हो गया था। राजधानी कोलकाता में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ बैठक के बाद स्वास्थ्य परिसेवा सामान्य होना सुनिश्चित माना जाने लगा था। मंगलवार की सुबह से अस्पताल कैंपस पुराने तेवर में दिखाई देने लगा। किसी तरह के टकराव से बचते हुए जहां चिकित्सक अपनी ड्यूटी में लगे रहे वहीं मरीजों ने भी परिसेवा का लाभ उठाया। संस्थान के प्राचार्य डॉ. पंचानन कुंडू ने कहा कि राज्य सरकार के निर्देश के अनुसार ही सुरक्षा मानकों का पालन किया जाएगा। जिससे चिकित्सकों को समुचित सुरक्षा मिल सके।

Posted By: Jagran