जागरण संवाददाता, खड़गपुर : पश्चिम मेदिनीपुर जिला अंतर्गत खड़गपुर के साउथ साइड स्थित केंद्रीय विद्यालय-2 खड़गपुर में शुक्रवार को शिविर का आयोजन कर प्राथमिक शिक्षक-शिक्षिकाओं को प्राथमिक चिकित्सा का प्रशिक्षण दिया गया। शिविर में विभिन्न केंद्रीय विद्यालयों के करीब 50 प्राथमिक शिक्षक-शिक्षिकाएं मौजूद रहे। सेंट जान एम्बुलेंस ब्रिगेड के डीवीजनल कमांडर असीम नाथ ने वक्तव्य देकर तथा प्रायोगिक विधि के माध्यम से शिक्षकों को बेहतर प्राथमिक चिकित्सा के बारे में बताया। गंभीर रूप से बीमार व घायल होने पर बंद श्वास की धड़कन को फिर से चालू करने, तत्काल रक्त प्रवाह रोकने, सर्प दंश की स्थिति में विष का प्रवाह शरीर में न फैलने आदि महत्वपूर्ण बातें बताई गई। शिविर में केंद्रीय विद्यालय-2 खड़गपुर के प्राचार्य किशोर कुमार भी प्रमुख रूप से मौजूद रहे। असीम नाथ ने कहा कि ज्यादातर मामलों में बेहतर प्राथमिक चिकित्सा के अभाव के कारण ही गंभीर रूप से बीमार व घायल लोग दम तोड़ देते हैं। इसलिए अस्पताल ले जाए जाने के दौरान घायल व बीमारों को प्राथमिक चिकित्सा सुविधा भी मुहैया करानी चाहिए, ताकि समय रहते लोगों की जान बच सके। प्राथमिक चिकित्सा की जानकारी शिक्षकों को भी दिया जाना काफी जरूरी है। प्राथमिक चिकित्सा की जानकारी होने पर शिक्षक इसे बच्चों को भी बताएंगें।

By Jagran