संवाद सूत्र, मेदिनीपुर : पश्चिम मेदिनीपुर जिला अंतर्गत मेदिनीपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बुधवार को राफेल मुद्दे पर रैली निकाली और विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान केंद्र सरकार पर देश की सुरक्षा से खिलवाड़ करने और भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए गए।

रैली का नेतृत्व अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के सचिव शरत राऊत, जिला कांग्रेस अध्यक्ष समीर राय आदि ने किया। कांग्रेस कार्यालय से निकली रैली ने शहर के विभिन्न भागों की परिक्रमा की। नेताओं ने कहा कि राफेल समझौता यूपीए सरकार के कार्यकाल में हुआ था। जिसके तहत फ्रांस से उचित मूल्य पर युद्धक विमान की खरीद और अन्य शर्तें तय थीं, लेकिन भाजपा सरकार ने समझौतों से खिलवाड़ किया। राफेल की खरीद में 1 लाख 70 हजार करोड़ रुपये का घोटाला हुआ। इसका जिम्मा अंबानी समूह को दे दिया गया, जिसे रक्षा मसले का कोई अनुभव नहीं है। इसे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है, क्योंकि यह मसला राष्ट्र की सुरक्षा से जुड़ा है। मामले की न्यायिक जांच करा कर दोषियों को सजा दिलानी होगी। अन्यथा कांग्रेस समूचे देश में बड़े पैमाने पर आंदोलन छेड़ेगी।

Posted By: Jagran