संवाद सूत्र, अलीपुरद्वार: आठ से नौ हाथियों के झुंड को ट्रेन हादसे से बचाने के लिए एनएफ रेलवे के दो चालकों को सम्मानित किया गया। पुरस्कृत दोनों चालक अलीपुरद्वार डिवीजन में कार्यरत है। हाथी पालकों को बचाने के चालक के कार्य से अलीपुरद्वार के डीआरएम चंद्रवीर रमन भी काफी खुश हैं। उन्होंने रविवार को ट्वीटर पर अपनी खुशी जाहिर की। जानकारी के अनुसार गत 24 अगस्त को बामनहाट-सिलीगुड़ी पैसेंजर ट्रेन सिलीगुड़ी की ओर जा रही थी। इसमें चालक अमरनाथ भगत व पवन कुमार मौजूद थे। इस दौरान शाम को साढ़े पांच बजे के करीब चालकों ने गुलमा के पास हाथियों का झुंड देखा। तभी उनलोगों ने ट्रेन की स्पीड को कम किया। हाथियों को रेल लाइन पार करने में करीब 10 मिनट का समय लगा। हाथियों के जंगल में जाने के बाद ही फिर ट्रेन सिलीगुड़ी के लिए रवाना हुई। इस खबर की जानकारी मिलने के बाद ही डीआरएम ने चालकों को सम्मानित करने का निर्णय लिया।

डीआरएम चंद्रवीर रमन ने कहा कि अत्यंत तत्परता के साथ चालकों ने हाथियों को बचाया है। पूरा रेल विभाग दोनों चालकों के काम से गर्व महसूस कर रहा है। दूसरी ओर पुरस्कार मिलने के बाद खुशी जाहिर करते हुए ट्रेन चालक अमरनाथ भगत ने कहा कि प्राणियों की जान बचाने पर उनलोगों को भी खुशी है। चालक पवन कुमार की माने तो उनलोगों को पता था कि हाथी उस इलाके में रहता है। इसलिये रेल लाइन का ख्याल रख रहे थे।

Posted By: Jagran