संवाद सूत्र, दार्जिलिंग: 108 वर्ष पुराने घूम वाले प्राथमिक स्कूल अब नए रूप में देखने को मिलेगा। जीटीए ने शिक्षा विभाग की ओर से भवन निर्माण के लिए 33 लाख 28 हजार रुपये आवंटित की है। ब्रिटिश शासनकाल में साल 1910 में ही स्कूल का निर्माण हुआ था। फिर जीडीएससी ने दूसरी बार स्कूल का निर्माण कराया। लेकिन आसपास का वातावरण बेहतर नहीं होने के चलते वर्तमान समय में केवल 72 छात्र-छात्राएं ही स्कूल में पढ़ने आते हैं। स्कूल संचालन समिति ने वर्तमान जीटीए संचालक विनय तामांग से मिलकर अपनी समस्याओं के बारे में जानकारी दी थी। इस बारे में ज्ञापन भी सौंपा जा चुका था। फलस्वरूप गत 23 जुलाई को भवन मरम्मत के लिए फंड आवंटित की गई थी। स्कूल के प्रधानाचार्य सागे डुक्पा ने तामांग समेत अन्य जीटीए सदस्यों का आभार प्रकट किया है।

Posted By: Jagran