- पिठासीन अधिकारी हुए बीमार, अस्पताल में कराया गया भर्ती

- तृणमूल कांग्रेस के 9 में 6 सदस्य नहीं पहुंच बीडीओ कार्यालय

- 54 ग्राम पंचायत में शांतिपूर्ण संपन्न हुई बोर्ड गठन प्रक्रिया जागरण संवाददाता, जलपाईगुड़ी: एक फोन पर बोर्ड गठन की प्रक्रिया नहीं हो पाई। शुक्रवार दोपहर को जलपाईगुड़ी से सटे मंडल घाट ग्राम पंचायत में प्रशासन बोर्ड गठन नहीं कर पाई। यहां गुरुवार रात से ही बोर्ड गठन को लेकर तृणमूल के दो गुटों में तनाव का माहौल देखा जा रहा था। हालात पर काबू पाने के लिए पुलिस को मौके पर बुलाया गया। इसके बाद शुक्रवार सुबह को फिर एक बार बोर्ड गठन की प्रक्रिया शुरू हुई। मंडल घाट ग्राम पंचायत के कुल 16 सीटों में तृणमूल कांग्रेस को 09, माकपा को 03 व 02 सीटों पर निर्दलीय को जीत मिली थी। इस दिन बोर्ड गठन को लेकर सत्ताधारी व विरोधी दल के सदस्य बीडीओ कार्यालय पहुंचे थे। लेकिन इस दौरान तृणमूल कांग्रेस के निर्वाचित सदस्यों में केवल 3 मौजूद हुए। शांतिपूर्ण प्रक्रिया संपन्न कराने के लिए अधिकारी के तौर पर दीपम चक्रवर्ती पहुंचे थे। लेकिन बोर्ड गठन से पहले ही उनके पास एक फोन आया। वह बीमार हो गए। फिर एंबुलेंस बुलाकर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। आरोप है कि तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने एंबुलेंस को भी वापस भेज दिया। इसके बाद कोतवाली थाने की पुलिस मौके पर पहुंचकर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया।

जलपाईगुड़ी के एसडीओ रंजन कुमार दास ने कहा कि मंडल घाट ग्राम पंचायत में बोर्ड गठन नहीं हो पाई है। प्रिसाइडिंग ऑफिसर के बीमार होने के बारे में छानबीन की जा रही है। इस दिन कुल 54 ग्राम पंचायत का बोर्ड गठन किया गया है। जो शांतिपूर्वक ही संपन्न हुई है।

Posted By: Jagran