-छात्रा का ने खुद करवाया स्लाइबा जांच, रिपोर्ट नेगेटिव आने के बावजूद मुहल्ले वाले ने किया है जीन दूभर

-जलपाईगुड़ी सदर अस्पताल में छात्रा की दीदी नर्स है, दोनों को किया जा रहा है परेशान

-छात्रा के परिवार को नल से पानी भरने पर पाबंदी

जागरण संवाददाता,जलपाईगुड़ी: कोलकाता से लौटी नर्सिग नर्सिग छात्रा व उसके परिवारवाले को इलाके के लोगों ने जीना दूभर कर दिया है। छात्रा ने खुद अपना स्लाइबा टेस्ट भी करवाया। रिपोर्ट नेगेटिव आया है। फिर उसके परिवार वालों को परेशान किया जा रहा है। पूरे मुहल्ले में झूठा प्रचार किया जा रहा है कि छात्रा कोरोना पॉजिटिव है। इस विषय में जलपाईगुड़ी चाइल्ड वेलफेयर कमेटी की चेयरपर्सन बेबी उपाध्याय ने इस घटना को लेकर सोशल मीडिया में पोस्ट किया है। गौरतलब है कि कोलकाता से 13 नर्सिग की छात्रा जलपाईगुड़ी सदर ब्लॉक आयी थी। सभी को क्वारेंटाइन किया गया है। सभी का रिपोर्ट नेगेटिव आया था। लेकिन इसमें एक छात्रों को पड़ोसी कोरोना-कोरोना कहकर परेशान कर रहें है। छात्रा का एक आत्मीय जलपाईगुड़ी सदर अस्पताल में नर्स है। छात्रा और उसकी दीदी को परेशान किया जा रहा है। यहां तक कि सोशल मीडिया पर झूठा प्रचार किया जा रहा है। इसके कारण पूरा परिवार अवसाद में आ गए है। यहां तक घर के पास नलकूप से पानी भरने नहीं दिया जा रहा है।

इस संबंध में उत्तर बंगाल के आएसडी डॉ. सुशांत राय ने बताया कि यह सब ठीक नहीं हो रहा है। इस तरह का झूठा प्रचार नहीं करना चाहिए। उसके परिवार के लोग कोरोना योद्धा है। उसके साथ ऐसा करना ठीक नहीं है। मैं जिला पुलिस अधीक्षक से इसकी शिकायत करूंगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस