- बोर्ड की पहली बैठक में गोरखा भवन व अन्य विकास कार्यो पर चर्चा

- 15 सितंबर से पहले होगी दूसरी बैठक: मोहन शर्मा

संवाद सूत्र, अलीपुरद्वार: गोरखा समुदाय के विकास के लिए बनी उन्नयन पर्षद का मुख्य कार्यालय अलीपुरद्वार प्रशासनिक भवन डुवार्स कन्या में होने जा रही है। अब बोर्ड की तरफ से अलग-अलग शहरों में गोरखा भवन बनाया जाएगा। गुरुवार प्रशासनिक भवन में आयोजित बैठक के बाद उक्त जानकारी डीएम निखिल निर्मल दे दी है। इस दिन सिलीगुड़ी तराई डुवार्स डेवलपमेंट एंड कलचरल बोर्ड (गोरखा कम्युनिटी) की पहली बैठक हुई है। इसके बाद बोर्ड के चेयरमैन मोहन शर्मा ने कहा कि बैठक में बोर्ड गठन के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को लिखित में आभार प्रकट करने का फैसला लिया गया है। साथ आगामी 15 सितंबर से पहले बोर्ड की दूसरी बैठक होगी। आज की बैठक में मुख्य तौर पर गोरखा समुदाय के शिक्षा, संस्कृति व विकास को लेकर बातचीत हुई है। नेपाली कवि भानुभक्त के नाम पर भवन बनाने पर भी चर्चाएं हुई है। राज्य सरकार ने 30 सदस्यों को लेकर कमेटी बनाई है। कमेटी का उप चेयरमैन विमल गुरुंग के करीबी संदीप छेत्री को बनाया गया है। आज बैठक के बाद संदीप ने कहा कि डुवार्स से और छह गोरखा सदस्यों को कमेटी में शामिल करने का फैसला लिया गया है। समुदाय के विकास कार्यो के लिए फिलहाल राज्य सरकार की ओर से 5 करोड़ रुपये आवंटित किया गया है।

Posted By: Jagran