संवाद सूत्र, नागराकाटा: डुवार्स के खस समुदायों को लेकर आगामी रविवार को नागराकाटा में खस भारतीय हितकारी सम्मेलन लुकसान आचलिक समिति का एक विराट जनसभा होने जा रहा है। यह सभा नागराकाटा आदिवासी चर्चा केंद्र में संपन्न होने जा रहा है । इस सम्मेलन में पहाड़ व डुवार्स के विभिन्न प्रान्तों खस समुदाय के प्रतिनिधि उपस्थित रहेंगे । आयोजक कमेटी से मिली जानकारी के अनुसार कार्यक्रम में लुकसान आंचलिक समिति को खस भारतीय हितकारी सम्मेलन दार्जिलिंग केंद्रीय कमेटी की ओर से पूर्णाक कमेटी का दर्जा मिलने जा रहा है। लुकसान में अब डुवार्स खस समुदाय का मुख्य कार्यालय होने जा रहा है । लुकसान आचलिक समिति के संयोजक मनोज कुमार दहाल ने बताया कि नागराकाटा में आयोजित होने वाला एतिहासिक होने जा रहा है। खस समुदाय को राज्य सरकार की ओर से ओबीसी का दर्जा दिया गया है। इस बारे में लोगों को अवगत कराने के लिए और राज्य सरकार को धन्यवाद देने के लिए कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम को दो चरणों में बांटा गया है। प्रथम चरण में सांगठनिक सभा किया जाएगा और दोपहर एक बजे से खस और अन्य हिंदु महिलाओं को लेकर हरितालिका तीज उत्सव कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा ।

Posted By: Jagran