संवाद सूत्र, वीरपाड़ा: बुधवार रात को एक बजे के करीब हाथी ने उत्पात मचाकर रामझोड़ा चाय बागान के न्यू लाइन के किसान भोक्ता व गांधी नगर लाइन के सूरज खरिया के घर को तोड़ दिया। इसमें काफी मात्रा में अनाज भी बर्बाद हुआ है। बाद में स्थानीय लोगों ने किसी तरह हाथी को जंगल की तरफ भगाया। रामझोड़ा चाय बागान के कर्मचारी रमेश शर्मा ने कहा कि श्रमिक मोहल्ले में हाथियों का हमला रूटीन हो गया है। इससे बच्चों को पढ़ाई में काफी समस्याएं हो रहीं है। लोगों में दहशत का माहौल है। रात को चैन की नींद नहीं सो पा रहे हैं। श्रमिक किसान भोक्ता व सूरज खरिया ने कहा कि रात को सामान्य आवाज से लोग डर जाते हैं। कुत्ते के चिल्लाने पर पता चल जाता है कि इलाके में हाथी घुस गया है। बुधवार रात को हाथी ने उनलोगों के घर को तोड़ दिया है। वहीं वन विभाग की ओर से बताया गया कि खुले चाय बागान में रहने वाले को किसी तरह का मुआवजा देने का प्रावधान नहीं है।

Posted By: Jagran