संवाद सूत्र,रायगंज: करोड़ों रुपए घोटाले मामले में तृणमूल के पूर्व पंचायत प्रधान को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। आरोपी पूर्व पंचायत प्रधान कई महीनों से फरार थी। कोर्ट में आत्मसमर्पण करने के बाद उसे न्यायिक शिकंजे में लिया गया। उल्लेखनीय है कि रायगंज प्रखंड के विंदोल ग्राम पंचायत के तृणमूल परिचालित बोर्ड पूर्व प्रधान लायला खातून पर आरोप है कि वह एक साल पहले प्रधान पद पर रहते हुए विकास मूलक सरकारी योजनाओं के करोड़ों रुपये का गबन किया। बाद में स्थानीय नागरिक मंच इस मामले को जोर-शोर से उठाया, जिसके आधार पर जिला प्रशासन द्वारा जाच की गई, जिसमें लायला खातून को दोषी पाया गया था। उसके बाद से ही आरोपी प्रधान फरार हो गई थी। परवर्ती काल में पंचायत विधि विधान के तहत उसे प्रधान पद से हटा दिया गया। तृणमूल भी उसे पार्टी से निकालकर उसके विरुद्ध कार्रवाई करने की सिफारिश की थी। इस दिन रायगंज स्थित उत्तर दिनाजपुर जिला अदालत में आत्मसमर्पण कर जमानत की अर्जी दाखिल की, जिसे निरस्त करते हुए न्यायाधीश ने जेल भेज दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस