-गुरुवार देर रात को चाय बागान में हाथियों ने मचाया तांडव, चार घर क्षतिग्रस्त

-आंगड़ाभाषा में मिड डे मील का रसोई घर पर हाथियों ने किया हमला

संवाद सूत्र,नागराकाटा: नाथुआ जंगल से शुक्रवार की सुबह एक विशालकाय हाथी का शव बरामद हुआ। बामनडांगा चाय बागान के समीन जंगल के जलढाका ब्लॉक में हाथी के मृत देह पड़ा देखा गया गया। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना नाथुआ रेंज के वन अधिकारी को दी। इसकी सूचना मिलते ही वन विभाग की ऑनरेरी वाइल्ड लाइफ की वार्डन सीमा चौधरी सहित विभिन्न अधिकारी आ थें। हाथी की मौत किस कारण से हुई, वन विभाग इसकी जांच कर रहें है। स्थानीय लोगों ने बताया कि हमने जंगल में एक घायल हाथी को धीमे-धीमे चलते देखा। बाद में वह गिर पड़ा। बामनगोला चाय बागान के लोगों ने बताया कि हाथियों ने फैकट्री लाइन, हाथी लाइन आदि विभिन्न इलाकों में तांडव मचाया था। ठुकुरू लाइन प्राथमिक स्कूल के शिक्षक प्रभारी ने बताया कि यह चौथा हमला था। रोजाना हमें रात को स्कूल बाहर ब्लब जलाकर रखना पड़ता है।

जलपाईगुड़ी डिवीजनल डीएफओ मृदुल कुमार ने बताया कि जब तक पोस्ट मार्टम रिपोर्ट नहीं आ जाती, हाथी के मौत का कारण नहीं पता चलेगा। वन विभाग के अधिकारी ने बताया कि हाथी के शरीर पर जख्म के निशान थें। दूसरी ओर गुरुवार को वामनडांगा चाय बागान में हाथियों के हमले से चार घर क्षतिग्रस्त किया। साथ ही आंगराभाषा के एक नंबर ग्राम पंचायत के हृदय ठुकरू लाइन में एक प्राथमिकी स्कूल का मिड डे मील का रसोई घर को हाथियों ने तोड़ दिया।

कैप्शन : जंगल में पड़ा हुआ हाथी का मृत देह

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस