आसनसोल : दीपावली के पूर्व धनतेरस पर खरीदारी के लिए आसनसोल बाजार में सोमवार शाम को जनसैलाब उमड़ पड़ा। सुबह से ही बाजार में भीड़-भाड़ थी, जो शाम होते ही और बढ़ती चली गई। शाम को बाजार में भीड़ का आलम यह था कि बर्तन, सोने-चांदी, मोबाइल दुकान व इलेक्ट्रानिक्स उत्पाद के दुकानों में पैर रखने तक की जगह नहीं थी। भगवान गणेश लक्ष्मी की मूर्ति की भी जमकर खरीदारी की गई। बाजार में भीड़ के कारण लोग धक्का-मुक्की करते हुए किसी तरह आगे बढ़ रहे थे। बाजार में लोगों की भीड़ बढ़ी तो सड़कों पर वाहन की संख्या भी बढ़ी। अत्याधिक वाहन होने के कारण पूरे शहर की ट्रैफिक व्यवस्था चरमरा गयी। जीटी रोड पर वाहन रेंग ही रहे थे। वहीं आश्रम मोड़ से वीआइपी रोड होकर जोगी स्थान मोड़ तक सैकड़ों वाहनों की कतार लगी रही। पुलिस को स्थिति नियंत्रित करने में पसीने छूटने लगे। धनतेरस की खरीदारी के साथ ही दीपावली के मद्देनजर बाजार में सजावट के सामान, लाइट, पूजन सामग्री, मिठाई, मोमबती, दीया, खिलौने के दुकानों में भी काफी भीड़ थी। वाहनों के शो रूम में भी खरीदारों की कतारें लगी हुई थी।

आसनसोल के अलावा रानीगंज, जामुडिया, बराकर, कुल्टी, चित्तरंजन समेत सभी बाजारों में खरीदारों की भीड़ रहने से बाजारों में रौनक दिख रही थी।

............

धनतेरस पर बर्तनों की जमकर हुई खरीदारी:

संवाद सहयोगी, बर्नपुर: धनतेरस के अवसर पर बर्नपुर बाजार में बर्तन सहित अन्य सामग्री की जमकर खरीददारी हुई। विशेषकर पीतल, कांसा और स्टील के बर्तनों की काफी मांग रही। पीतल के बर्तन में लोटा, गमला, थाली, बाल्टी आदी की मांग थी। वही कांसा के बर्तनों में जग, दीप, ग्लास आदि की खरीददारी की गई।

रानीगंज: धनतेरस के दिन रानीगंज शहर में सुबह से ही लचर ट्रैफिक व्यवस्था के कारण लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। रानीगंज के मुख्य बाजार बड़ा बाजार, सीआर रोड तथा मारवाड़ी पट्टी में टोटो वाहनों की लंबी लाइन एवं बेतरतीब तरीकों से इन वाहनों के लगाए जाने के कारण पूरे दिन जाम की स्थिति बनी रही। धनतेरस को लेकर बाजार में भारी भीड़ होने के कारण ग्राहकों को दुकान पहुंचने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस