आसनसोल : सलानपुर थाना के रूपनारायणपुर फाड़ी अंतर्गत एक बंद घर से गुरुवार की दोपहर एक वृद्धा का खून से लथपथ शव मिला है। लोगों ने हत्या की आशंका जताई है। मृतका की पहचान घर की मालकिन नियती साहा 68 के रूप में की गई है। पुलिस इस मामले में मृतका के छोटे बेटे से पूछताछ कर रही है। बताया जाता है कि रूपनारायणपुर के पश्चिम रांगामटिया में रहने वाली नियती साहा का बुधवार से ही पता नहीं चल रहा था। नियती साहा का बड़ा बेटा अशोक साहा आसनसोल में और छोटा बेटा विश्वनाथ साहा चित्तरंजन में रहता है। बताया जाता है कि बुधवार की दोपहर से अशोक बार-बार मां को फोन कर रहा था, लेकिन फोन स्विच आफ बता रहा था। उधर से कोई जवाब नहीं मिलने से परेशान अशोक ने रूपनारायणपुर में ही रहने वाले किसी दोस्त को मां के घर भेजा। लेकिन दोस्त ने घर में ताला लगा होने की बात कही। छोटे भाई को फोन किया लेकिन उसने जानकारी नहीं होने की बात कही। किसी अनहोनी की आशंका से शाम होते-होते अशोक भी पहुंचा लेकिन घर में उस समय भी ताला लगा देखा तो पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने लापता की डायरी कराने को कहा। गुरुवार की सुबह पुलिस की उपस्थिति में घर का ताला तोड़ा गया तो अंदर नियती साहा का खून से लथपथ शव पड़ा मिला। मृतका का गला कटा हुआ था। पुलिस ने शव के निकट से कुछ कपड़ा और खून लगा साबल भी जब्त किया। पुलिस ने मृतका के दोनों बेटों से पहले पूछताछ की। एडीसीपी अनामित्रा दास ने कहा कि हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल छोटे बेटे से पूछताछ की जा रही है। बताया जाता है कि करीब छह वर्ष से पश्चिम रांगामटिया स्थित घर में साहा परिवार रहता था। वर्तमान में नियती अकेले ही रहती थी। उनके पति की पहले ही मौत हो चुकी है, वह चिरेका में कार्यरत थे।

Posted By: Jagran