संवाद सहयोगी, बेनाचिति :

चुनाव परिणाम आने के बाद हर जगह तृणमूल कांग्रेस द्वारा हिसा की शिकायतें आ रही है। लोगों के घरों पर हमले जैसी घटना हुई है। दुर्गापुर शहर में भी कई जगह भाजपाइयों के घरों, पार्टी कार्यालयों को निशाना बनाया गया था। लेकिन अब दुर्गापुर पश्चिम सीट के गैराज मोड़ के समीप माकपा के पार्टी कार्यालय पर तृणमूल ने कब्जा जमा लिया। जिसकी शिकायत मिलने पर शनिवार की रात माकपा नेता पहुंचे एवं पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद पुलिस ने कार्यालय को वापस दिलाया।

वर्षों से एसबीएसटीसी गैराज मोड़ के पास माकपा का कार्यालय था। जहां से माकपा कार्यकर्ता राजनीतिक कार्य करते थे। इस बार दुर्गापुर पश्चिम सीट से तृणमूल कांग्रेस को हार मिली है। जिसके बाद शहर के कई वार्डों में भाजपाइयों पर हमला किया गया था। जिसके बाद अब माकपा के कार्यालयों पर कब्जा जमाना भी शुरू कर दिया गया। गैराज मोड़ स्थित माकपा के कार्यालय पर कब्जा करने के बाद उसे हरे रंग से रंग दिया गया था एवं तृणमूल का झंडा भी लगा दिया गया था। शनिवार की रात माकपा नेता पंकज राय सरकार पहुंचे एवं पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद पुलिस की मौजूदगी में माकपा ने कार्यालय को पुन: अपने कब्जे में लिया। रविवार की सुबह उस कार्यालय की फिर से रंगाई शुरू हुई। पंकज राय सरकार ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के लोग इस तरह की ही राजनीति करने आ रहे है, जो ठीक नहीं है। तृणमूल नेता पार्थ सारथी दास ने कहा कि माकपा से लोग हट गए है, इस तरह का आरोप लगाकर माकपा लोगों की सहानुभूति पाना चाहती है।

Edited By: Jagran