-साइबर फ्राड के प्रति भी किया होशियार, सुरक्षा के बताए नुस्खे जागरण संवाददाता, सिलीगुड़ी : शहर से थोड़ी दूर फांसीदेवा प्रखंड के विधान नगर के मुरलीगंज स्थित मुरलीगंज हाईस्कूल में शुक्रवार को दार्जिलिंग जिला पुलिस की ओर से विशेष सत्र आयोजित किया गया। इसमें दार्जिलिंग पुलिस के एसपी डा. निम्बलकर संतोष उत्तमराव व कालिम्पोंग के एडिशनल एसपी मनोरंजन घोष ने जहां विद्यार्थियों को जीवन मंत्र दिया वहीं सिलीगुड़ी साइबर पुलिस स्टेशन के आइसी शंकर दास व ओसी रंजन दलाई आदि ने सभी को साइबर फ्राड यानी आनलाइन ठगी व अपराध के प्रति होशियार किया एवं इससे सुरक्षा के कई नुस्खे भी बताए।

दार्जिलिंग पुलिस के एसपी डा. निम्बलकर संतोष उत्तमराव ने अपने जीवन संघर्षो को सबके सामने रखते हुए कहा कि, उनके जीवन में एक ऐसा समय भी आया था कि उन्हें होटल में काम करना पड़ा था। इसके बावजूद उन्होंने हार नहीं मानी। अपने लक्ष्य पर अडिग रहे। पूरी लगन से मेहनत की व सफलता प्राप्त करके ही दम लिया। आज वह एक प्रतिष्ठित आइपीएस आफिसर हैं। वहीं, कालिम्पोंग के एडिशनल एसपी मनोरंजन घोष ने भी अपने जीवन संघर्षो को साझा करते हुए बताया कि उनके जीवन में भी एक समय ऐसा आया कि उन्हें मिस्त्री तक का काम करना पड़ा। पर, वह अपने लक्ष्य से डिगे नहीं और सफलता प्राप्त करके ही दम लिया।

इन अधिकारियों ने अपने इन संघर्षो को साझा कर यह मूल मंत्र दिया कि जीवन में चाहे जितना भी कठिन समय आए वह उसे सफलता प्राप्त करने से विचलित नहीं कर सकता जो अपने लक्ष्य के प्रति अडिग हो, जिसमें पूरी लगन हो और मेहनत से न कतराए। इन अधिकारियों का आभार व्यक्त करते हुए मुरलीगंज हाईस्कूल के प्रधानाध्यापक शम्शुल आलम ने कहा कि, इन अधिकारियों का जीवन संघर्ष बहुत ही प्रेरणादायक है। इससे अनेक विद्यार्थी अपने जीवन पथ पर लाभान्वित होंगे।

इस अवसर पर साइबर विशेषज्ञों ने विद्यार्थियों को सचेत किया कि वे सोशल मीडिया या इंटरनेट के किसी भी प्लेटफार्म पर किसी भी अनजान से दोस्ती न करें। अपनी सारी सही-सही जानकारी सार्वजनिक रूप में साझा न करें, कोई भी उसका दुरुपयोग कर सकता है। इसलिए पूरी तरह सजग व सचेत रह कर ही इंटरनेट माध्यमों का उपयोग करें। कहीं, कोई समस्या हो तो तुरंत पुलिस को सूचित करें। उन्होंने और भी बहुत से गुर बताए। अंत में प्रश्नोत्तरी सत्र में इन अधिकारियों ने बच्चों की विविध जिज्ञासाओं का समाधान भी किया।

Edited By: Jagran